🤫सचिन ने खोला राज, बताया कैसे पहचानी धोनी की खासियत💁‍♂️

  |   क्रिकेट

भारत में क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि कैसे उन्होंने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी में लीडरशिप के गुणों को पहचाना. सचिन ने अपनी गौरव कपूर के साथ हुए ब्रेकफास्ट विथ चैम्पियन्स में इंटरव्यू के दौरान धोनी के बारे में खुल कर चर्चा की. सचिन ने बताया कि कैसे जब धोनी के फिल्डिंग सेट करते समय वे उनसे बात करते थे तब वे धोनी के लीडरशिप के गुण को पहचान सके.

इस चैट शो में बातचीत दौरान सचिन ने बताया, “जब भी मैं स्लिप पर फील्डिंग करता था तब हमेशा धोनी से फील्डिंग पोजिशन्स के बारे चर्चा करता था. अपने विचार बताने के बाद में उससे फील्डिंग के बारे में पूछा करता था. इसी तरह की बातचीत के दौरान ही मैं धोनी की लीडरशिप क्षमता के बारे में जान सका.”

गौरतलब है कि धोनी ने कभी भी कोई मैच नहीं खेला था. सचिन ने आखिरी बार साल 2000 में कप्तानी की थी, जबकि धोनी ने अपना टेस्ट करियर साल 2005 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में और अपना वनडे करियर 2004 में सौरव गांगुली की कप्तानी में शुरू किया था. हालाकि सचिन को धोनी का खूब साथ मिला क्योंकि सचिन ने 2013 में क्रिकेट को अलविदा कहा था. धोनी 2008 में ही टीम इंडिया के कप्तान बन गए थे. सचिन को धोनी की कप्तानी काफी समय तक करीब से समझने का मौका मिला था.

यहां पढें पूरी खबर—http://v.duta.us/0p3BuwAA

📲 Get LIVE क्रिकेट स्कोर on Whatsapp 💬