[bhadohi] - कई प्रमुख स्टेशनों के लिए ट्रेनों की समुचित व्यवस्था नहीं

  |   Bhadohinews

भदोही। उत्तर रेलवे के भदोही रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों के अभाव से कई बड़े शहरों को आवागमन शहरवासियों के लिए समस्या बनी हुई है। कारोबारी लहजे से भदोही में भारी संख्या में राजस्थान के लोग रहते हैं तथा बराबर जयपुर, जोधपुर आदि आना जाना होता है लेकिन वहां के लिए सप्ताह में केवल एक ट्रेन है। इलाहाबाद जो उच्च नायालय के लिहाज से प्रमुख गन्तव्य है वहां जाने के लिए दोपहर 12 बजे से पहले कोई ट्रेन नहीं है। आल इंडिया कारपेट यार्न स्पिनर्स एंड डीलर्स एसोसिएशन (एसिस्डा) के पदाधिकारी इस सिलसिले में कई बार डीआरएम और रेलमंत्री से मिल चुके हैं लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ है। जानकारी हो कि व्यापार और शिक्षा के नजरिए से कानपुर, इलाहाबाद व अलीगढ़ महत्वपूर्ण स्टेशन हैं। काती व्यवसाईयों की सहुलियत देखें तो जयपुर और जोधपुर भी लोगों का आना जाना लगा रहता है। लेकिन इन स्थानों को आने जाने के लिए भदोही स्टेशन पर सीमित ट्रेनें हैं। एसिस्डा के अध्यक्ष रमेश काबरा ने कहा कि भदोही से जयपुर होते हुए जोधपुर के लिए सप्ताह में केवल एक ट्रेन हैं। यहां बसे भारी संख्या में राजस्थानियों को घर आने जाने के लिए इलाहाबाद से ट्रेन लेनी होती है। पूर्व सभासद अधिवक्ता विनोद सोनकर ने कहा कि इलाहाबाद जाने के लिए भी माकूल इंतजाम नहीं है। रेलमंत्री ने गाजीपुर और प्रयाग के डेमू चलाई लेकिन वह भदोही 12 बजे के बाद पहुंचती है। इसका संचालन गाजीपुर के लोगों के लाभ लिए किया गया है। व्यवसाई हाजी सुहैल अंसारी ने कहा कि अलीगढ़ के लिए केवल एक ट्रेन है जो सप्ताह में तीन दिन ही चलती है। कानपुर के लिए यही ट्रेन एकमात्र विकल्प है। पूर्वा एक्सप्रेस अच्छी ट्रेन है लेकिन उसका स्टापेज जंघई मे है जबकि उसे भदोही से अच्छे यात्री मिल सकते हैं। इस्तीयाक अंसारी डायर ने कहा कि जयपुर के लिए इलाहाबाद से रोजाना रात्रि 11.30 बजे चलने वाली इलाहाबाद - जयपुर एक्सप्रेस को यदि वाराणसी से चलाया जाए तो निश्चित रूप से भारी आबादी को लाभ होगा। इस पर रेलमंत्री को ध्यान देना चाहिए।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/pE0kFgAA

📲 Get Bhadohi News on Whatsapp 💬