[farrukhabad] - गंगा नहानेे गए दो ममरे भाई डूबे, मौत

  |   Farrukhabadnews

फर्रुखाबाद। गंगा नहाने के दौरान दो ममरे भाई गहरे पानी में समा गए। उन्हें छटपटाता देख अन्य साथी शोर शराबा करने लगे। नाविकों ने काफी मशक्कत के बाद दोनों युवकों को बाहर निकाला। लोहिया अस्पताल लाते समय उनकी मौत हो गई। मौत की खबर सुनते ही परिजनों में कोहराम मच गया।

फतेहगढ़ कोतवाली के भूसामंडी निवासी इमरान (20) पुत्र नईम बक्श और उसका ममेरा भाई नसीम (21) पुत्र वसीम रविवार की दोपहर अपने परिवार के साथ ही दोस्तों के साथ पांचाल घाट स्थित गंगा नहाने के लिए उत्तरी बंधा पर गए हुए थे। यह लोग नरेश पंडा के घाट के सामने नहा रहे थे। इस दौरान इन में से एक युवक पहले गहरे पानी में चला गया।

उसके शोर मचाने पर दूसरा भाई बचाने के लिए जा पहुंचा। दोनों के गहरे पानी में चले जाने से वह लोग डूबने लगे। उसके साथियों ने शोर शराबा करना शुरू किया तो घाटों पर मौजूद नाविक दौड़कर आए। आनन फानन में नाविकों ने गंगा में छलांग लाग लगा दी। काफी देर मशक्कत करने के बाद दोनों को बाहर निकाला। परिवार के लोग दोनों को लोहिया अस्पताल लेकर आए। य

हां पर मौजूद डॉक्टर अभिषेक चतुर्वेदी ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर पर परिजनों में कोहराम मच गया। इसकी सूचना जैसे ही मोहल्ले में पहुंची तो हर कोई अस्पताल में पहुंच गया। अस्पताल में अफरातफरी मच गई। इस बीच मारपीट करने के लिए दो लोग आए। जिन्हें कुुछ देर के लिए रोक दिया गया। परिवार के लोग ने आपस में वार्ता करने के बाद शवों को लेकर चले गए। परिजनों ने बताया कि इमरान दिल्ली में काम करता था। इमरान तीन भाई और सात बहनें है। शव को देखकर मां शाहिदा खातून का रो रोकर बुरा हाल हो गया है। वहीं नसीम तीन भाई है। वह प्राइवेट नौकरी करता था। मां रेशमा बानो शव को देखकर अचेत हो गई।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/B0x9mQAA

📲 Get Farrukhabad News on Whatsapp 💬