[pilibhit] - आंधी बारिश से बिजली ठप, पानी संकट भी गहराया

  |   Pilibhitnews

लीड14 पीबीटीपी 1,2 आंधी बारिश से बिजली ठप, पानी संकट भी गहरायाशहर से देहात तक टूटे पोल, तार क्षतिग्रस्त, नागरिक परेशान सुधार कार्य में लगाई गईं बिजली विभाग की 12 टीमेंअमर उजाला ब्यूरो पीलीभीत।रविवार रात करीब साढ़े आठ बजे आई आंधी-बारिश से जिले की बिजली व्यवस्था ठप पड़ गई। शहर से देहात तक पेड़ों के गिरने से जगह-जगह बिजली के तार क्षतिग्रस्त हो गए, तो वहीं पोल गिर गए। इसके अलावा कई स्थानों पर ट्रांसफार्मर में खराबी आ गई। बिजली संकट से जूझ रहे लोगों के सामने पानी की समस्या भी आ खड़ी हुई है। जिसको लेकर हर कोई परेशान है। दूसरे दिन सोमवार को बिजली विभाग की 12 टीमें सुधार कार्य में लगाकर व्यवस्था दुरुस्त करने का प्रयास किया जा रहा है।दस दिन में दूसरी बार आए आंधी-बारिश के बाद रविवार रात एक तरफ आग की घटनाओं ने मजदूरों और किसानों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी। वहीं, शहर से लेकर देहात क्षेत्रों की बिजली व्यवस्था भी ठप पड़ गई। टनकपुर हाईवे, बरेली हाईवे, रेलवे स्टेशन रोड समेत कई इलाकों में विद्युत पोल टूटकर जमीन पर आ गिरे। पेड़ों की टहनियां गिरने से बिजली के तार क्षतिग्रस्त हो गए। इसके बाद से शहर से लेकर देहात क्षेत्र तक बिजली संकट गहरा गया। कुछ देर तक तो इन्वर्टर का साथ रहा, लेकिन वह भी ज्यादा देर तक लोगों को राहत नहीं दे सका। उधर पानी की समस्या ने लोगों की मुसीबत और बढ़ा दी। शहर के अधिकांश घरों में पानी की मोटर लगी होने से लोग पेयजल के साथ ही घरेलू कामकाज के लिए पानी की समस्या से जूझते रहे। सोमवार का पूरा दिन बिना बिजली ऐसे ही बीत गया। उधर बिजली विभाग के अधिकारियों ने इसको लेकर अपनी टीमों को सुधार कार्य के लिए मौके पर भेजा। जिसके बाद आधा दिन पेड़ों की टहनियों की छटनी करने में ही बात गया। जिसके बाद टूटे तार और पोल का सुधार कार्य जारी है। इसको देखते हुए बिजली का संकट जल्द दूर होता दिखाई नहीं दे रहा है। हालांकि अफसर सोमवार रात तक शहर की व्यवस्था सुचारू करने की बात कह रहे हैं। 000 आंधी से 35 पोल, एक हजार मीटर तार और 33 इंसुलेटर खराब हो गए हैं। इससे करीब 12 उपकेंद्र से सप्लाई बाधित हुई है। सभी उपकेंद्र से एक-एक टीम बनाकर सुधार कार्य को लगाई गई है। नकटादाना फीडर को शुरू कराया जा सका है। बकाया पर काम जारी है, सोमवार रात तक शहर की सप्लाई संभवत: सुचारू कर दी जाएगी। - एनपी सिंह, अधिशासी अभियंता (बिजली विभाग)

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/OFdjSwAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬