[pratapgarh] - शहर में धूल भरी आंधी से पसरा सन्नाटा

  |   Pratapgarhnews

जिले में रविवार की रात धूल भरी आंधी ने लोगों का जन जीवन अस्त व्यस्त कर दिया। मांगलिक कार्यक्रम में विध्न पड़ गए। कुंडा में ओले के साथ बरसात हुई। पेड़ भी गिरकर धराशाई हो गए। शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों में बिजली गुल हो गई। वहीं देर रात काम करके घर को लौट रहे एक वृद्ध की मौत हो गई।रविवार की रात जवाहर लाल (70) निवासी लाल सिंह का पुरवा थाना नवाबगंज साइकिल से घर को लौट रहे थे। तभी तेज आंधी आने के कारण वह फंस गए। इससे उनकी मौत हो गई। वहीं कुंडा तहसील क्षेत्र में रविवार की देर रात धूल भरी आंधी ने दस्तक दी। तेज हवा के साथ धूल के गुबार ने लोगों को सांस लेना दुश्वार कर दिया। कुछ ही देर में आंधी के साथ बरसात होने लगी। बारिश के बीच ही ओले पडने लगे। देखते ही आंधी संग्रामगढ़, डेरवा, लालगंज होते हुए शहर पहुंची। तेज हवाओं के चलते दुकानों के बाहर लगे टीनशेड उड़ गए। होडंग्स बैनर भी आंधी उड़ा ले गई। लोगों के घरों के बाहर बहुत से छप्पर गिर पड़े। आंधी के साथ ही बरसात भी होने लगी। आंधी के चलते शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों की बिजली गुल हो गई। कई स्थानों पर पेड़ गिर पड़े। बिजली के पोल भी पेड़ की चपेट में आकर टूट गए। लोगों के घरों पर आयोजित मांगलिक कार्यक्रम में विध्र पड़ गया। आंधी व बरसात के चलते लोगों को गर्मी से राहत मिली।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/wbEu2QAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬