[dehradun] - देवाल के बजई गांव में पहुंचा पानी, झूमे ग्रामीण

  |   Dehradunnews

देवाल ब्लाक के दूरस्थ बजई गांव के ग्रामीणों को अब खच्चरों से पानी नहीं ढोना होगा। गांव के लिए सोलर पंपिंग योजना बनकर तैयार हो गई है।

पहले दिन जब गांव में बने स्टैंड पोस्ट पर पानी पहुंचा तो ग्रामीण खुशी से झूम उठे। ग्रामीण बोले अब जाकर बरसों पुरानी मुराद पूरी हुई है। ब्लाक का बजई गांव में सड़क न होने से ग्रामीणों को देवाल-खेता मोटर मार्ग से 15 किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है। गांव के लिए कोई भी पेयजल स्रोत न होने से यहां पानी की लाइन नहीं बन पाई थी। ग्रामीणों को गांव से दो किमी दूर खच्चरों से पानी ढोना पड़ता था।

ऐसे में एक बाल्टी पानी 50 रुपये में मिलती थी। ग्रामीणों की लगातार मांग के बाद वर्ष 2014 में यहां तत्कालीन पेयजल मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी ने क्षेत्र पंचायत सदस्य पुष्पा जोशी की मांग पर सोलर पंपिंग योजना की घोषणा की। जल निगम कर्णप्रयाग ने गांव के लिए 1700 मीटर पेयजल लाइन और 7500 लीटर पानी का स्टोरेज टैंक बनाया।

अब गांव में पानी की सप्लाई शुरू कर दी गई है। प्रधान काम सिंह, ग्रामीण रतन सिंह ने कहा कि गांव में पानी न होने से 15 से अधिक परिवार पलायन कर चुके हैं। अब पेयजल लाइन बन गई है। ऐसे में गांव में रह रहे 13 से अधिक परिवारों को पानी की सुविधा मिल सकेगी। वहीं जल निगम के अधिशासी अभियंता आरसी मिश्रा ने बताया कि 39 लाख से बजई गांव के लिए पेयजल योजना का निर्माण पूरा कर दिया गया है। जल्द ही योजना जलसंस्थान को हैंडओवर की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/31PqbwAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬