[delhi-ncr] - सीसीटीवी टेंडर को लेकर केजरीवाल व उनके विधायकों ने LG निवास के बाहर दिया धरना, भेदभाव का लगाया आरोप

  |   Delhi-Ncrnews / Delhinews

दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच की जंग सोमवार को उपराज्यपाल कार्यालय तक पहुंच गई। आम आदमी पार्टी (आप) के सभी विधायकों व दिल्ली सरकार के मंत्रियों संग मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल कार्यालय की तरफ मार्च किया।

उपराज्यपाल कार्यालय से पहले पुलिस ने केजरीवाल को रोक लिया। इससे नाराज अरविंद केजरीवाल धरने पर बैठ गए। विधायकों संग उपराज्यपाल से मुलाकात की इजाजत न मिलने को केजरीवाल ने दिल्ली की जनता का अपमान करार दिया।

वहीं, उपराज्यपाल पर सीसीटीवी प्रोजेक्ट रोकने का आरोप लगाते हुए मसले को अब दिल्ली वासियों के बीच ले जाने की बात कही। करीब तीन घंटे के हंगामे के बाद मुख्यमंत्री बिना उपराज्यपाल से मुलाकात किए लौट गए।

उधर, उपराज्यपाल कार्यालय का कहना है कि अरविंद केजरीवाल बगैर किसी वजह से प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली सरकार ने सीसीटीवी लगवाने से जुड़े किसी प्रोजेक्ट का प्रस्ताव उपराज्यपाल को नहीं भेजा है।

केजरीवाल दिल्ली वालों को भ्रमित कर रहे हैं। उपराज्यपाल कार्यालय की मानें तो अनिल बैजल मुलाकात के लिए तैयार थे, लेकिन केजरीवाल ने उनके पास जाने की जगह धरने पर बैठना पसंद किया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_t-_RQAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬