[jalandhar] - खालिस्तानी संगठनों के संदिग्ध आंतकियों के रिमांड में बढ़ोतरी

  |   Jalandharnews

सभी केंद्रविदेश से हुई फंडिंग, आस्ट्रेलिया में आतंकी गुरजंट के संपर्क में थे दोनों कोर्ट ने खालिस्तानी आतंकियों का रिमांड 16 मई तक बढ़ायाचार दिन पहले कोटकपूरा से हुई थी गिरफ्तारीदोनों को टारगेट किलिंग के लिए हथियार मुहैया कराए गए अमर उजाला ब्यूरोफरीदकोट। चार दिन पहले कोटकपूरा से गिरफ्तार खालिस्तानी संगठन के संदिग्ध आतंकियों के पुलिस रिमांड की अवधि खत्म होने पर सोमवार को उन्हें स्थानीय प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी एकता उप्पल की अदालत में पेश किया गया। पुलिस के आग्रह पर अदालत ने दोनों को 16 मई तक दोबारा पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने 10 मई को दोनों संदिग्ध आतंकियों बठिंडा के गांव बंगी निहाल निवासी संदीप सिंह और थाना सदर डबवाली (सिरसा) के गांव चठ्ठा निवासी अमर सिंह को प्वाइंट 30 बोर की दो पिस्टलों व 40 कारतूसों समेत गिरफ्तार किया था। सोमवार को पुलिस ने दोनों को अदालत में पेश करते हुए कहा कि दोनों को विदेश से होने वाली फंडिंग के बारे में जानकारी जुटाने के लिए उनके और पुलिस रिमांड की जरूरत है। साथ ही पुलिस की तरफ से अदालत के समक्ष दोनों आतंकियों के मोबाइल फोन की काल डिटेल से संबंधित सीडीआर भी पेश की गई और बताया गया कि दोनों अपने फोन पर विदेश में बातचीत करते रहे हैं। पुलिस का दावा है कि दोनों को विदेश में कार्यरत खालिस्तानी संगठनों ने टारगेट किलिंग के लिए न सिर्फ हथियार मुहैया कराए, बल्कि उन्हें इसके लिए विदेश से फंडिंग भी की गई है। वह आस्ट्रेलिया निवासी गुरजंट सिंह नामक आतंकी के संपर्क में थे। जिसका नाम केएलएफ व आईएसवाईएफ से जुड़े आतंकियों को फाइनेंशियल हेल्प करने में भी सामने आ चुका है, जो जनवरी 2016 से अक्तूबर 2017 तक राज्य में टारगेट किलिंग की 8 घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0NXHcAAA

📲 Get Jalandhar News on Whatsapp 💬