[kaushambi] - दो साल से अधर में पड़े 1710 शौचालय

  |   Kaushambinews

बारा। कौशाम्बी ब्लॉक के जिम्मेदार ओडीएफ अभियान को पलीता लगा रहे हैं। धनराशि निकालने के बावजूद करीब 1710 शौचालयों का निर्माण नहीं किया जा रहा है। अधूरे शौचालयों का निर्माण पूरा नहीं करने पर राशन बंद करने का फरमान दिया गया है।स्वच्छ भारत मिशन के तहत पूरे जिले को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए गांवों में घर-घर शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। इसी के तहत वर्ष 2016-17, 17-18 में कौशाम्बी ब्लॉक के 57 ग्राम सभाओं को पंचायत राज विभाग की ओर से 11824 शौचालय की धनराशि आवंटित की गई थी। वित्तीय वर्ष गुजरने के बावजूद इनमें से तकरीबन 10094 शौचालयों का ही निर्माण कराया जा सका है। इसकी बानगी क्षेत्र के आधा दर्जन गांवों में देखने को मिल रही है। यहां के रसूलपुर गांव में 305 के मुकाबले करीब 280, भखंदा में 254 के सापेक्ष करीब 215, ढोकसहा में 285 की जगह लगभग 150, रक्सवारा में 182 के सापेक्ष करीब 100 इटैला में 207 के मुकाबले 180 तथा महंगूपुर में 161 की जगह केवल सौ शौचालय ही बनवाए जा सके हैं। एडीओ पंचायत संतोष त्रिपाठी ने बताया कि शौचालय निर्माण में दिलचस्पी नहीं दिखाने वाले लोगों को राशन नहीं देने का निर्देश कोटेदारों को दिया गया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/PX16ZwAA

📲 Get Kaushambi News on Whatsapp 💬