[mandi] - इक अधिया मंगाईजा रे पर खूब झूमे दर्शक

  |   Mandinews

पहाड़ी गानों पर खूब झूमाए दर्शक जिलास्तरीय माहूंनाग मेले में स्थानीय कलाकारों ने जमाया रंग पहली सांस्कृतिक संध्या में चला नाटियों का दौर अमर उजाला ब्यूरो करसोग (मंडी)। जिलास्तरीय मूल माहूंनाग मेले की पहली सांस्कृतिक संध्या में करसोग के कलाकारों ने खूब समां बांधा। कलाकारों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां देकर मेला मैदान में उमड़ी भीड़ का भरपूर मनोरंजन किया। पहली सांस्कृतिक संध्या में बतौर मुख्य अतिथि करसोग के विधायक हीरालाल ने शिरकत की। मेला कमेटी के सदस्यों ने उन्हें शॉल और टोपी देकर सम्मानित किया। दीप प्रज्वलन के साथ सांस्कृतिक संध्या का आगाज किया गया। प्रदेश में अपनी नाटियों से पहचान बना चुके करसोग के स्टार कलाकार नरेश भारद्वाज के मंच पर पहुंचते ही स्थानीय जनता ने तालियों के साथ उनका जोरदार स्वागत किया। उन्होंने ..मुझे आए मिलदे शिमले री बजारे प्यारिये रुमतिए, रामपुर चल मेरी सजनी, भेड़ा लाई चारणी, प्यार नी मिलना-दिलदार नी मिलना, झुमके, झुमके, चमचमादें हो, इक अधिया मंगाई जा रे गानों की झड़ी लगा दी। इसके बाद मालिक मोहन गुलेरिया ने भी अपनी प्रस्तुति से सभी को मंत्र मुग्ध कर दिया। पंजाबी और हिंदी गानों पर उन्होंने खूब तालियां बटोरीं। तारा चौहान, महेंद्र ठाकुर ने भी एक से बढ़कर एक बेहतर प्रस्तुतियां देकर दर्शकों का मन मोह लिया। इस मौके पर मेला कमेटी सदस्य प्रधान ग्राम पंचायत घनश्याम, जिला परिषद सदस्य निर्मला चौहान, अमीचंद, राम सिंह सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2ZhsYwAA

📲 Get Mandi News on Whatsapp 💬