[sitapur] - संवरेगी सड़कें, सुधरेगे पार्क, बहेगी पानी की धार

  |   Sitapurnews

संवरेंगी सड़कें, सुधरेंगे पार्क, बहेगी पानी की धारसीतापुर। शहर की सड़कें अब लकालक होंगी। हर वार्ड में गलियों की इंटरलाकिंग व वॉटर सप्लाई व्यवस्था भी चाकचौबंद होगी। नई पाइप लाइन बिछेगी तो पुरानी बदली भी जाएगी। सफाई व्यवस्था के लिए नए उपकरणों की खरीद होगी।स्ट्रीट लाइटें लगेंगी। शहर के हर घर में शौचालय बनवाया जाएगा। बदहाल पार्कों की सूरत बदली जाएगी। विकास कार्यों का यह खाका वित्तीय वर्ष 2018-19 की सोमवार को आयोजित नगर पालिका की बोर्ड बैठक में पास हुआ।इसमें 98 करोड़ 83 लाख से विकास कार्य कराए जाने पर मुहर लगी। अब जल्द ही विकास कार्यों का खाका तैयार किया जाएगा। नगर पालिका की पिछले महीने हुई बोर्ड बैठक काफी हंगामेदार रही थी।प्रोसीडिंग बुक को लेकर उपजे विवाद पर जिलाधिकारी ने पूरे मामले की जांच कराई। मामला सही पाए जाने पर शासन को बैठक निरस्त करने की संस्तुति कर दी है। इसके बाद सोमवार को फिर से पुराने नगर पालिका कार्यालय पर बोर्ड बैठक बुलाई गई।पहले की तरह कोई हंगामा न हो, इसके लिए प्रशासन ने तैयारी कर रखी थी। शहर कोतवाली, रामकोट, इमलिया सुल्तानपुर समेत कई थानों की पुलिस बुला ली गई थी।साथ ही गड़बड़ी की आशंका को देखते हुए प्रशासन की तरफ से नामित अफसर नायब तहसीलदार मौजूद रहे। इसके साथ ही पूरी बैठक की वीडियो रिकार्डिंग कराई गई। 11 बजे बैठक का समय निर्धारित था।कुछ देर इंतजार के बाद जब कोरम पूरा हो गया तो 11.15 बजे बैठक शुरू हुई। अध्यक्ष राधेश्याम जायसवाल ने धन्यवाद प्रस्ताव देकर बैठक की शुरुआत की घोषणा की।ईओ निहाल चंद ने आय व व्यय का अनुमानित बजट पढ़कर सुनाया जिस पर सभी सदस्यों ने ताली बजाकर बजट को बिना किसी आपत्ति के पास कर दिया। चालू वित्तीय वर्ष में 98 करोड़ 83 लाख से विकास कार्य कराए जाने का खाका खींचा गया।सभासदों के विरोध न करने के चलते केवल 15 मिनट में ही बैठक निपट गई। इस दौरान 16 सभासद मौजूद रहे। ईओ निहाल चंद ने बताया चालू सत्र का बजट पास हो गया है। अब वार्डवार इसका खाका तैयार करके निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा। नगरपालिका चालू सत्र में प्रकाश व्यवस्था पर दो करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस बजट से स्ट्रीट लाइटें लगवाई जाएंगी। विद्युत उपकरण खरीदे जाएंगे। जिन मोहल्लों में प्रकाश की कोई व्यवस्था नहीं है, वहां लाइटें लगेंगी।साथ ही इस कार्य को करने में लगे कर्मचारियों पर 12 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। अमृत योजना के तहत पेयजल व्यवस्था पर 25 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इस बजट से 70 किलोमीटर नई लाइन बिछेगी।साथ ही इतनी पुरानी लाइन बदली जाएगी। इससे शहर के हर बाश्ंिादे को वॉटर सप्लाई की सुविधा मिलेगी। साथ ही दो करोड़ की लागत से इंडिया मार्का हैंडपंप भी लगाए जाएंगे व इनकी मरम्मत होगी। स्वच्छ पेयजल के लिए सामग्री भी खरीदी जाएगी।शहर की साफ-सफाई व्यवस्था चौकस बनाने के लिए 20 लाख का बजट प्रावधानित किया गया है। इस बजट से सफाई के नए उपकरण हत्थू ठेला व डस्टबिन समेत अन्य सामग्री खरीदी जाएगी।इससे शहर के मोहल्ले कूड़ामुक्त होगे। साथ ही सफाई कार्य में लगे ठेका/संविदा कर्मियों पर 36 लाख रुपये खर्च होगे। नगरपालिका क्षेत्र के उद्यान तीन करोड़ की लागत से संवारे जाएंगे। यह रकम अमृत योजना के तहत मिलेगी।इससे पार्कों में शानदार सुविधा मुहैया कराई जाएगी। बैठने के लिए बेंच, फव्वारा व झूला आदि की मुकम्मल व्यवस्था की जाएगी। साथ ही एक करोड़ 45 लाख से पुराने पार्कों की सूरत बदली जाएगी। यहां मरम्मत का काम कराया जाएगा। शहरी क्षेत्र में करीब 15 करोड़ की लागत से सड़कों का जाल बिछाया जाएगा। विशेषकर फोकस उन मोहल्लों पर होगा जहां अभी तक सड़क नहीं बन सकी है। इससे सड़क न बनने की समस्या से जूझ रहे बाशिंदों को सहूलियत होगी। नगरपालिका को यह रकम राज्य वित्त आयोग, अवस्थापना निधि, सड़क सुधार, बीआरजीएफ, विशेष शासकीय अनुदान व विधायक / सांसद निधि से मिलेगी। स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहर में ढाई करोड़ की लागत से शौचालय बनवाए जाएंगे। पूरे शहर को ओडीएफ घोषित किया जाएगा। अब तक छह वार्ड ओडीएफ घोषित कर दिए गए है। जिन घरों में अभी शौचालय नहीं बन सकें है, वहां विशेष अभियान चलाकर बनवाए जाएंगे। पिछली बार हंगामेदार हुई बोर्ड बैठक में भाजपा सभासदों ने खुलकर विरोध किया था। वे प्रोसीडिंग बुक पर कार्रवाई न दर्ज होने से भड़क गए थे लेकिन सोमवार को हुई बैठक में भाजपा सभासद गैरहाजिर रहे। इसकी काफी चर्चा होती रही। इन सभासदों का काफी देर तक इंतजार भी हुआ लेकिन वे नहीं पहुंचे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4ThiiwAA

📲 Get Sitapur News on Whatsapp 💬