👉कुमारस्वामी-परमेश्वर ने सौंपा समर्थन 📄पत्र, कानूनी सलाह लेंगे 👌राज्यपाल

  |   समाचार / PM Modi News

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए, लेकिन किसकी सरकार बनेगी ये तय नहीं हो पा रहा। नतीजों में कोई भी पार्टी बहुमत का जादुई आंकड़ा (112) पार नहीं कर पाई है। ऐसे में सत्ता हासिल करने के लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने मोर्चेबंदी शुरू कर दी है। विधायकों को जोड़ने-तोड़ने की हर संभव कोशिश जारी है।

बुधवार को बीजेपी ने येदियुरप्पा के नेतृत्व में सरकार बनाने का दावा कर किया। बताया जा रहा है कि उन्होंने सीएम पद की शपथ ग्रहण के लिए राज्यपाल वजुभाई वाला से कल का समय मांगा है। फिर शाम को कुमारस्वामी कांग्रेस-जेडीएस के कुल 113 विधायकों को लेकर राजभवन पहुंचे। जेडीएस नेता कुमारस्वामी, कांग्रेस विधायक जी। परमेश्वर और रेवन्ना ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की और सभी विधायकों का समर्थन-पत्र सौंपा।

कुमारस्वामी और जी। परमेश्वर ने बताया कि उन्होंने कांग्रेस-जेडीएस के सभी विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंप दिया है। उम्मीद है राज्यपाल संविधान के मुताबिक, फैसला लेंगे। कांग्रेस-जेडीएस विधायकों का समर्थन पत्र मिलने के बाद राज्यपाल अब कानूनी सलाह लेंगे, फिर अंतिम फैसला लिया जाएगा।

इससे पहले जेडीएस विधायक दल के नेता चुने गए कुमारस्वामी ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि JDS के विधायकों को खरीदने के लिए उन्हें 100-100 करोड़ रुपये तक ऑफर किए। हालांकि कर्नाटक में बीजेपी के चुनावी पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कुमारस्वामी के आरोपों को 'ख़याली पुलाव' बताते हुए खारिज किया है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/mBxVBAAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬