👉राज्यपाल से मुलकाता नहीं होने पर 🏢राजभवन के आगे धरना देगी ✋कांग्रेस-जेडीएस

  |   समाचार / PM Modi News

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद वहां के सियासी हालाताें में पल-पल में उबाल बढ़ता जा रहा है। एक ओर जहां भाजपा सरकार के लिए अपना दवा पेश कर रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस व जेडीएस भी सरकार बनाने के लिए अपना दबाव बना रही है।

सुबह भाजपा की ओर से राज्यपाल से मुलाकात करने के बाद अब शाम को कांग्रेस और जेडीएस विधायकों के समर्थन पत्र के साथ राज्यपाल वजूभाई वाला से मिलने जा रही है।हालांकि कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद का आरोप है कि राज्यपाल की तरफ से उन्हें कोई जवाब नहीं मिल पाया है। आजाद ने कहा कि वह बारह-साढ़े 12 बजे से ही राज्यपाल से मिलने के लिए वक्त मांग रहे हैं, लेकिन हमें अब तक राज्यपाल से कोई संदेश नहीं दिया गया है।

कांग्रेस और जेडीएस अपने सभी विधायकों से एचडी कुमारस्वामी के समर्थन में सिग्नेचर लिया है। दोनों पार्टियां इन समर्थन पत्रों के साथ राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात के लिए निकल चुकी हैं।। ऐसे में इस बार राज्यपाल से मुलाकात नहीं हो तो दोनाें पार्टियों के नेता राजभवन के आगे ही धरने पर बैठ जाएंगे।

इससे पहले जेडीएस विधायक दल के नेता चुने गए कुमारस्वामी ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि जेडीएस के विधायकों को खरीदने के लिए उन्हें 100-100 करोड़ रुपये तक ऑफर किए। हालांकि कर्नाटक में बीजेपी के चुनावी पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कुमारस्वामी के आरोपों को 'ख़याली पुलाव' बताते हुए खारिज किया है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/frr-4AAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬