[barabanki] - जय जय जय बजरंगबली, लगा भंडारा गली-गली

  |   Barabankinews

जेठ माह के तीसरे बड़े मंगल पर जिले भर में भक्ति, श्रद्धा उल्लास में लोग डूबे रहे। मंदिरों में पूजा अर्चना के लिए लाइन लगी रही। जगह जगह भंडारे पर प्रसाद खिलाने व खाने वालों का जोश देखने लायक था। कहीं शरबत पिलाया जा रहा था तो कहीं बूंदी खिलाई जा रही थी। कहीं हलुवा पूड़ी बंटी तो कहीं छोला चावल। यही नहीं कई जगह फल बांटे। इस मौके पर नेता, अधिकारी से लेकर हर वर्ग के लोग भंडारे में पहुंच कर प्रसाद ग्रहण किया। सुबह से लेकर शाम तक बजरंगबली के गीत और जयकारे गूंज रहे थे। जैदपुर, सिद्धौर क्षेत्र में भी भंडारे का आयोजन किया गया।

शनि जयंती पर शनि भगवान की हुई पूजा

शनि जयंती पर भगवान शनि की पूजा अर्चना की गई। शहर स्थित शनि मंदिर के अलावा माल गोदाम रोड स्थित शनि मंदिर में पूजा की गई। यहां के पुजारी नारायन दास ने बताया कि हर शनिवार को भगवान शनि की पूजा होती है। लेकिन आज शनि जयंती होने के कारण मंदिर की सफाई की गई और चोला बदलकर पूजा अर्चना की गई। सुबह मंदिर पहुंचे कई भक्तों ने दीप जलाया और पूजा अर्चना कर मंगल कामना की।

पुरुषोत्तम मास आज से

पुरुषोत्तम मास आज से शुरू हो रहा है। इसे अधिक मास या मलमास भी कहते हैं। मानस मर्मज्ञ प्रमोद पाठक ने बताया कि इस मास में भगवान विष्णु स्वरूप शालिग्राम के साथ महालक्ष्मी स्वरूपा श्रीयंत्र का पूजन करना फलदायी होता है। शालिग्राम भगवान विष्णु का साक्षात मूर्तिमान स्वरूप है। हर तीसरे साल अधिक मास यानी पुरुषोत्तम मास पड़ता है। इस मास में भगवान विष्णु का पूजन, जप, तप, दान से पुण्य प्राप्त होता है। श्रीमदभागवत गीता का पाठ, श्रीराम अराधना, कथा सुनने और भगवान विष्णु की उपासना करने पर विशेष फल प्राप्त होता है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/WuNUIQAA

📲 Get Barabanki News on Whatsapp 💬