[bareilly] - पेज वन- लखीमपुर खीरी

  |   Bareillynews

आंधी से लगी आग में झुलसे दंपति और दिव्यांग ने दम तोड़ा खेत में नरई की आग फैलने से राख हो गया था खमरिया गांवएक व्यक्ति की रविवार रात ही आग से हो गई थी मौत अमर उजाला ब्यूरो तिकुनियां (लखीमपुर खीरी)। कोतवाली क्षेत्र के तीन गांवों में रविवार की शाम आंधी से फैली आग में झुलसे एक दंपति और एक दिव्यांग की सोमवार रात मौत हो गई। आंधी-तूफान के दौरान आग लगने से अब मृतकों की संख्या बढ़कर चार हो गई। रविवार की रात आई तेज आंधी के दौरान गांव खमरिया कोईलार, सुथना बरसोला और केवटली में भीषण आग लग गई थी। खमरिया निवासी शोएब ने अपने खेत की नरई जलाने को शाम को आग लगाई थी। आंधी आने पर वही आग फैल गई। रात होने के कारण ग्रामीण अपने घरों में थे। अचानक आग लगने से लोग कुछ समझ नहीं पाए। इससे समूचा गांव राख के ढेर में बदल गया। इस अग्निकांड में गांव खमरिया निवासी मोहम्मद रफीक (55) समेत 10 लोग गंभीर रूप से झुलस गए थे। झुलसे मोहम्मद रफीक ने जिला अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया था, जबकि अन्य झुलसे लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।सोमवार की रात गांव खमरिया निवासी अहमद रसूल (25), उनकी पत्नी कुसबुननिशा (23) और गांव सुथना बरसोला निवासी दिव्यांग श्रीकृष्ण (65) की मौत हो गई। एएसपी घनश्याम चौरसिया मोर्चरी पहुंचे और पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाया। -------------इनसेट ----नरई जलाना बना था कारण, तीन आरोपी गिरफ्तारकोतवाल अजय कुमार सिंह ने बताया कि शोएब ने अपने खेत में गेहूं की नरई में आग लगाई थी, इसी दौरान आई आंधी से आग फैल गई और इतना बड़ा हादसा हो गया। उन्होंने बताया कि अग्निपीड़ित रामनिवास की ओर से पुलिस ने गांव खमरिया निवासी सईद, गउस के पुत्र सुहेल और शोएब के खिलाफ कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है। सईद, सुहेल और शोएब को गिरफ्तार कर चालान काट दिया गया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/MIimFgAA

📲 Get Bareilly News on Whatsapp 💬