[delhi-ncr] - देश में पहली बार लेप्रोस्कोपिक सर्जरी से हुआ लिवर ट्रांसप्लांट, नहीं आया बॉडी पर कोई निशान

  |   Delhi-Ncrnews / Delhinews

फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों ने कोरिया की तर्ज पर पहली बार लेप्रोस्कोपिक सर्जरी के जरिये लिवर का प्रत्यारोपण किया। इराक निवासी बच्चे को उसकी मां ने लिवर दान में दिया था।

डॉक्टरों के अनुसार, अभी तक पेट पर करीब 15 सेंटीमीटर का कट लगाने के बाद प्रत्यारोपण किया जाता है, जबकि इस केस में लेप्रोस्कोपिक लेफ्ट लैटरल हेपेटेक्टोमी तकनीक का इस्तेमाल किया गया। आमतौर पर कोरिया के डॉक्टर इस तकनीक का बखूबी इस्तेमाल करते हैं। ऑपरेशन 27 अप्रैल को किया गया था।

फोर्टिस अस्पताल के लिवर ट्रांसप्लांट यूनिट निदेशक डॉ. विवेक विज ने बताया कि इराक निवासी अली (ढाई साल) लिवर की बीमारी से पीड़ित था। उसे ग्लाइकोजेन स्टोरेज नामक बीमारी हुई थी। यह बीमारी एक तरह से मेटाबॉलिज्म को लेकर काम करती है। जो शरीर के अंदर ही अंदर लिवर को नुकसान पहुंचाती है। बच्चा कमजोर था और उसका विकास रुक सा गया था।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-n03zAAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬