[fatehpur] - कैंसर का पता चलने पर शिक्षक ने लगा ली फांसी

  |   Fatehpurnews

बिंदकी। मुंह में कैंसर का पता चलने पर प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक ने सोमवार देर रात फांसी लगाकर जान दे दी। गुटखे की लत के चलते इन्हें मुंह में घाव होकर गांठ बन गया था। पिता की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया।

नगर के ललौली रोड निवासी बराती लाल के बेटे अमित वर्मा (33) अमौली विकास खंड के पनेरूवा गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक थे। मंगलवार भोर लगभग चार बजे अमित की बहन मनीषा जागी तो वह भाई को फंदे पर लटका देख चीख पड़ी। बरामदे के कड़े में चादर के सहारे अमित का शव लटक रहा था। परिजनों ने पड़ोसियों की मदद से अमित को फंदे से उतारा और सीएचसी लेकर पहुंचे। वहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

पिता बराती लाल ने कोतवाली में खुदकुशी की सूचना दी। उन्होंने बताया कि बेटा इन दिनों तनाव में रह रहा था। उधर, पत्नी मोनी ने बताया कि पति को मुंह में घाव व गांठ के चलते दिक्कत थी। वह गुटखा खाते थे, हालांकि तकलीफ के चलते छोड़ दिया था। एक सप्ताह पहले कानपुर के एक निजी डाक्टर को दिखाने गए थे। उन्होंने कैंसर बताकर दवा दी थी। वहां से आने के बाद से तनाव में रहने लगे थे।

सीओ अभिषेक तिवारी ने बताया कि पोस्टमार्टम कराया गया है। मौत की वजह बीमारी की जानकारी होने से तनाव को माना जा रहा है।

बच्चों के नहीं रुक रहे आंसू

शिक्षक अमित वर्मा के एक बेटा मंगलम (4) और दूसरा दो साल का माधवम है। घर के लोगों को रोता देख दोनों भी अपने आंसू नहीं रोक सके। अमित की मां सुनीता देवी, पिता बराती लाल, छोटे भाई अजीत, बहन मनीषा, नूतन और पत्नी मोनी सभी दुखी दिखे। इधर, मौत की खबर सुनते ही विद्यालय के शिक्षक व मित्र भी शोक संवेदना व्यक्त करने घर पहुंचे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/dydDTgAA

📲 Get Fatehpur News on Whatsapp 💬