[haridwar] - एसआईएस को सौंपी अखाड़ा परिषद अध्यक्ष से जुड़े मुकदमे की जांच

  |   Haridwarnews

हरिद्वार। निरंजनी अखाड़े के संतों के बीच चली आ रही जंग से जुड़े मुकदमों की जांच अब विशेष जांच प्रकोष्ठ (एसआईएस) को सौंप दी गई है। अभी तक इन मुकदमों की जांच कोतवाली ज्वालापुर पुलिस कर रही थी।पिछले दिनों निरंजनी अखाड़े के संत रविंद्रपुरी ने दिल्ली के पूर्व विधायक सुरेंद्र कुमार समेत कई लोगों के खिलाफ उन्हीं के ही अखाड़े के संत महंत रामानंदपुरी को बंधक बनाने एवं रामानंद इंस्टीट्यूट की संपत्ति को हड़पने समेत प्रभावी धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस अभी जांच में ही जुटी थी कि मामले में नया मोड़ उस वक्त आ गया था जब अखाड़े के ही संत रामानंद पुरी ने अपने ही अखाड़े के संतों पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। कोतवाली ज्वालापुर में महंत रामानंद पुरी ने अपने अखाड़े के श्रीमहंत एवं अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि, रविंद्रपुरी समेत कई लोगों पर उनकी संपत्ति हड़पने, बंधक बनाने समेत गंभीर आरोप लगाए थे। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के मामले की गूंज सीएम त्रिवेंद्र रावत के दरबार तक पहुंची थी। एसएसपी कृष्ण कुमार वीके ने संपत्ति से जुड़े इन दोनों ही मामलों की जांच एसआईएस को सौंप दी है। कोतवाली ज्वालापुर प्रभारी अमरजीत सिंह ने इसकी पुष्टि की है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/w14drAAA

📲 Get Haridwar News on Whatsapp 💬