[mandi] - डीएलएड के लिए छुट्टियों का प्रावधान करे विभाग: चमन

  |   Mandinews

सुंदरनगर (मंडी)। राजकीय सीएंडवी अध्यापक संघ ने शिक्षा विभाग पर शिक्षकों का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। एक तरफ शिक्षा विभाग शिक्षकों को अप्रशिक्षित करार देकर डीएलएड करने के लिए दबाव बना रहा है, दूसरी ओर शिक्षा विभाग की ओर से छुट्टियों का प्रावधान न करने पर स्कूल मुखिया उन्हें (ईओएल) बिना वेतन स्कूल में अनुपस्थिति लगा रहे हैं। संघ के प्रदेशाध्यक्ष चमन लाल शर्मा ने कहा कि 2010 के बाद नियुक्त सीएंडवी अध्यापक मानसिक रूप से परेशान हैं। उन्होंने 15 दिन की पीसीपी (व्यक्तिगत संपर्क कार्यक्रम) किया तो स्कूलों में शिक्षकों के पास छुट्टियां न होने के कारण 15 दिन की अनुपस्थिति स्कूल मुखिया लगा रहे हैं तथा इससे उनकी सर्विस ब्रेक होने के साथ वेतन भी कटेगा। अब 12 दिन का प्रयोगात्मक आधारित कार्यक्रम होगा तथा 10 दिन परीक्षा के लिए लगेंगे। कुल मिलाकर एक वर्ष में 37 दिन का अवकाश चाहिए लेकिन, शिक्षकों को केवल 12 दिन का अवकाश ही मिलता है। जबकि पैट अध्यापकों को डीएलएड के लिए पहले ही अवकाश दे दिया गया है। फिर सीएंडवी अध्यापकों से ये भेदभाव क्यों? उन्होंने कहा कि अगर शिक्षा विभाग ने छुट्टियों का कोई प्रावधान नहीं किया तो शिक्षक डीएलएड कोर्स का बहिष्कार करेंगे। जिसकी पूरी जिम्मेवारी शिक्षा विभाग की होगी। प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा विभाग छुट्टियां केवल पीसीपी की ही नहीं अपितु परीक्षा के लिए छुट्टियों की भी एक साथ अधिसूचना जारी करे। उन्होंने कहा कि जब सीएंडवी शिक्षकों की नियुक्ति हुई थी तब आरएंडपी रूल्ज में डीएलएड करने का कोई उल्लेख नहीं था। अब शिक्षकों को क्यों परेशान किया जा रहा है। इस मौके पर संघ के महासचिव राकेश संदल, कोषाध्यक्ष एचएस मस्ताना, प्रेस सचिव मंगल सिंह गुलेरिया तथा संघर्ष समिति के अध्यक्ष चतर सिंह भी उपस्थित रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/RDFW8gAA

📲 Get Mandi News on Whatsapp 💬