[mandi] - बदहाल कच्ची सड़क को मेरी सड़क ऐप दिखा रही पक्का

  |   Mandinews

रिवालसर (मंडी)। जिले के बल्ह विस क्षेत्र में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत दस वर्ष पहले बनी एक सड़क केंद्र सरकार की मेरी सड़क ऐप में पक्की हो गई। लेकिन, धरातल पर एक दशक बाद भी सड़क पक्का होना तो दूर अभी सही ढंग से डीपीआर ही मुकम्मल नहीं हुई है। हालात यह हैं कि बरसात में यह कच्ची सड़क नाले में तबदील हो जाती है। यहां पर निगम की एक बस समेत अन्य वाहनों की आवाजाही बंद हो जाती है। मामला विकास खंड बल्ह की तीन ग्राम पंचायतों सरधवार, रियूर और दूसरा खाबू से जुड़ा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनी सड़क एक दशक बाद भी पक्का नहीं हो सकी है। लगभग दस वर्ष पूर्व घौड़ नाला से दूसरा खाबू सड़क का निर्माण करवाया गया है। लेकिन, तीन पंचायतों की चार हजार आबादी सड़क के पक्का न होने से यातायात सुविधाओं की कमी से जूझ रही है।

इस सड़क के निर्माण से इन तीन पंचायतों के 4000 लोगों को लाभ मिला है। लेकिन, अरसे के बाद यह सड़क पक्की नहीं हो सकी है। इस सड़क पर परिवहन विभाग की एक बस लोगों को परिवहन सुविधा देती है लेकिन, बारिश के मौसम में सड़क की खराब हालत के कारण यह बस सेवा बंद हो जाती है। गांव के युवक योगेश ने जब मेरी सड़क ऐप पर इस सड़क के बारे में जानकारी हासिल की तो उसे इस सड़क को पक्की बताया गया है जोकि विभाग की लापरवाही से कच्ची सड़क को पक्की दर्ज कर दिया गया है। स्थानीय लोगों में योगेश, पवन, खूब राम, छवि राम, दामोदर, रमेश ने मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से इस सड़क के बारे में छानबीन करवाने की मांग उठाई है। लोगों ने सीएम से विभाग को सड़क पक्की करने के निर्देश देने का आग्रह किया है।

गलती से कंप्यूटर में पक्की सड़क की हुई एंट्री : विभाग

रिवालसर स्थित लोक निर्माण विभाग के कार्यालय में कार्यरत कनिष्ठ अभियंता अरविंद गर्ग ने कहा कि कंप्यूटर में यह सड़क पक्की दर्ज कर दी गई है। परंतु यह सड़क अभी कच्ची है। अब इस सड़क की डीपीआर दोबारा बनाई गई है। जल्द ही इस सड़क को पक्का करवाने का प्रयास किया जाएगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/AqK7EwAA

📲 Get Mandi News on Whatsapp 💬