[solan] - क्लीन में एंबुलेंस मार्ग की निर्माण सामग्री पर उठाए सवाल

  |   Solannews

सोलन। कालका-शिमला नेशनल हाईवे से क्लीन तक प्रस्तावित निर्माणाधीन एंबुलेंस मार्ग में डाली जा रही सामग्री पर लोगों ने सवाल खड़े किए हैं। मंगलवार को क्लीन सेवा समिति और कमल ऑचर्ड वेलफेयर सोसायटी ने संयुक्त रूप से डीसी विनोद कुमार से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा। दोनों समितियों ने निर्माण सामग्री की जांच की मांग की। प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई कर रहे पूर्व मनोनीत पार्षद राजीव कौड़ा ने कहा कि एंबुलेंस रोड का कार्य अधर में होने से करीब 500 परिवार प्रभावित हो रहे हैं। यदि एंबुलेंस रोड के गहरे मोड की मरम्मत के साथ अधूरे कार्य को पूरा किया जाए तो लोगों को भी अन्य वार्डों की तर्ज पर सहायता वाहन तथा एंबुलेंस की सुविधा मिलेगी।

क्लीन सेवा समिति के प्रधान गीताराम कश्यप और कमल ऑचर्ड रेजिडेंट वेलफेयर सोसायटी के प्रधान केएल शर्मा ने हाइवे से क्लीन की तरफ आने वाली सड़क को एंबुलेंस रोड का नाम दिया है लेकिन इस रोड की हालत खराब होने से इसमें एंबुलेंस नहीं चल सकती। इससे बीमार लोगों को अस्पताल पहुंचाने में दिक्कतें पेश आ रही हैं। एंबुलेंस रोड के दोनों तरफ अवैध पार्किंग के चलते यहां से निजी वाहनों को चलाना मुश्किल हो गया है। इस सड़क में स्ट्रीट लाइन की सुविधा नहीं होने से सड़क किनारे रात के समय शरारती तत्वों का जमावड़ा रहता है। इससे स्थानीय लोगों को खासकर महिलाओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस मौके पर प्रताप राणा, केएल शर्मा, चंद्रमणि सोनी, रामेश्वर शर्मा, मनीराम, इंद्र सिंह ठाकुर, मोना गाचली, रत्नचंद, सेवा राम, रतिराम, भूपेंद्र, लायक राम शर्मा, धर्म सिंह, इंद्रपाल और हरिमोहन शर्मा मौजूद रहे। डीसी विनोद कुमार ने मामले की गंभीरता से जांच करने का आश्वासन दिया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/FaZVkAAA

📲 Get Solan News on Whatsapp 💬