[sonebhadra] - तहसील दिवस में ग्रामीणों का हंगामा, आक्रोश

  |   Sonebhadranews

तहसील दिवस के मौके पर बभनी ब्लॉक के बरवाटोला के ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। उनका कहना था कि दो माह पूर्व हुए राशन कार्ड के सत्यापन में क्षेत्रीय लेखपाल ने ज्यादातर पात्रों का नाम काट दिया और रुपये लेकर अपात्रों का राशन कार्ड बनवा दिया। हंगामा कर रहे ग्रामीणों ने कोटेदार कविता देवी के ससुर गुलाब व लेखपाल अशोक गुप्ता पर गंभीर आरोप लगाए। दुद्धी तहसील में दोपहर करीब 12 बजे बरवाचोला से पहुंचे ग्रामीणों ने पहले हंगामा किया और फिर तहसीलदार मृत्युंजय सिंह को ज्ञापन सौंपा। उनका कहना था कि गांव के कोटेदार द्वारा अपने चहेतों व अपात्रों का राशन कार्ड बनवा दिया गया है। पात्र व्यक्ति सरकार की इस योजना से बाहर हो गये हैं। गांव में कुल 192 अंत्योदय व 220 पात्र गृहस्थी कार्ड है। लेखपाल अशोक गुप्ता और कोटेदार कविता देवी द्वारा गांव में बिना गए मनमाने ढंग से पात्रों का नाम काट दिया गया है और रुपये लेकर एक परिवार में सात तो कहीं चार अंत्योदय कार्ड बना दिए गए हैं। ग्रामीण रमाकांत, संगीता देवी, लीलावती, रासपति, सत्यवती, रूना देवी, सोनी देवी, रिजवाना खातून, समा परवीन, अन्नो, गीता देवी, शीला देवी, सेहरा बेगम, सूरज लाल, अलीशेर, अर्जुन, सीता कुंवर आदि मौजूद रहीं। धन उगाही का लगाया आरोप बरवाटोला गांव निवासी रामसुंदर ने बताया कि कार्ड बनाने के नाम पर एक हजार रुपये लिया गया है, बावजूद इसके रुपये लेकर कार्ड नहीं बनवाया गया और न ही रुपये ही वापस किए गए। गांव में कई लोगों से कार्ड बनाने के नाम पर रुपये की वसूली की गई है और चहेतों का कार्ड बनवाया गया है। तहसीलदार मृत्युंजय सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी होने के बाद उसकी जांच का आदेश दे दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ffdDoAAA

📲 Get Sonebhadra News on Whatsapp 💬