[varanasi] - पसीना बहाते पहुंचे फरियादी, निराश लौटे

  |   Varanasinews

ज्ञानपुर। जिले के तीनों तहसीलों में मंगलवार को आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में पसीना बहाते पहुंचे ज्यादातर फरियादियों को निराश हाथ लगी। इसमें कुल 288 प्रार्थना पत्र आए, जिसमें सिर्फ 13 का निस्तारण हुआ। औराई में डीएम तो ज्ञानपुर में मंडलायुक्त ने फरियादियों की समस्या सुनीं। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर मामलों के निस्तारण का निर्देश दिया। ज्ञानपुर तहसील में एसडीएम ज्ञानपुर सुनील कुमार की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया। दोपहर बाद आए मंडलायुक्त मनोहर लाल ने लोगों की समस्याएं सुनी। तहसील में आए 121 प्रार्थना पत्रों में चार निस्तारित हुए। औराई तहसील में डीएम राजेंद्र प्रसाद की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस संपन्न हुआ। डीएम ने कहा कि आईजीआरएस के प्रकरणों का तत्काल निस्तारण किया जाए अन्यथा अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। डीएम ने कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में आने वाली शिकायतों के निस्तारण में अधिकारी लापरवाही न बरतें। राजस्व से जुड़ी शिकायतों के निस्तारण के लिए पुलिस और राजस्व विभाग को एक साथ जाने के लिए कहा। इस दौरान तहसील में राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय की ओर से लगे स्टॉल पर 36 मरीज, यूनानी चिकित्सा पर 47 और होम्योपैथ चिकित्सा के स्टाल पर 55 लोगों को दवाएं उपलब्ध कराई गई। चिकित्सक डॉ. महेंद्र, डॉ. जीलाल, डॉ. एम के पटेल ने संयुक्त रूप से 12 दिव्यांगो को प्रमाण पत्र जारी किया गया। संपूर्ण समाधान दिवस पर 103 फरियादियों ने शिकायत की, जिसमें आठ का निस्तारण हुआ। इस मौके पर एसपी सचिंद्र पटेल, एसडीएम केशवनाथ, सीडीओ हरिशंकर सिंह, सीएमओ डॉ. सतीश सिंह, आमोद ओझा, केडी पांडेय आदि रहे। भदोही तहसील में एसडीएम आशीष कुमार की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान विभिन्न विभागों के आए 64 प्रार्थना पत्रों में एक का निस्तारण हुआ। इस मौके पर सीओ अभिषेक पांडेय आदि रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/5TStgQAA

📲 Get Varanasi News on Whatsapp 💬