[varanasi] - बाबा संकटमोचन ने बचाई मेरी और बेटी की जान

  |   Varanasinews

वाराणसी। मेरी और मेरी बेटी की जान बाबा संकटमोचन ने बचा ली। मंगलवार शाम निर्माणाधीन फ्लाईओवर की चपेट में आने से बाल-बाल बचे बरेली में तैनात कारागार प्रशासन के अधिकारी विजय राय ने ‘अमर उजाला’ को फोन कर आपबीती सुनाई। कहा, अगर उनकी कार को महानगर बस ने ओवरटेक न किया होता तो बीम सीधे उनकी कार पर गिरती और वह और उनकी बेटी बच नहीं पाती।राय ने बताया कि इलाहाबाद हाईकोर्ट से बेटी के साथ कार से वापस लौट रहे थे। हादसे के चंद सेकेंड पहले उनकी कार को महानगर बस के ड्राइवर ने ओवरटेक किया। यह देख उन्होंने कार की गति धीमी कर दी और देखते ही देखते दो बीम एक-एक कर तेज धमाके के साथ जमीन पर गिर पड़े। राय ने बताया कि पल भर के लिए उनकी आंखों के सामने अंधेरा छा गया था। वहीं, फ्लाईओवर पर काम कर रहे मजदूर बीम गिरते ही भाग निकले। थोड़ी देर के लिए कोई भी कुछ समझ और कर पाने की स्थिति में ही नहीं था। धूल का गुबार थमा तो चीख-पुकार मच गई और लोग मदद के लिए दौड़ पड़े।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/DkP_RAAA

📲 Get Varanasi News on Whatsapp 💬