[varanasi] - वाराणसी फ्लाईओवर हादसे की जांच शुरू, सस्पेंड चार अफसरों पर मुकदमा दर्ज

  |   Varanasinews

वाराणसी में मंगलवार शाम हुए निर्माणाधीन फ्लाईओवर हादसे की जांच बुधवार सुबह से शुरू हो गई है। घटनास्थल पर पहुंची फोरेंसिक टीम साक्ष्य जुटा रही है। ड्रोन से फोटोग्राफी कराई गई है। घटना को लेकर केंद्र से लेकर यूपी सरकार एक्शन में है।

पीएमओ लगातार घटना को लेकर अपडेट ले रहा है वहीं सीएम योगी खुद पूरे हादसे को लेकर गंभीर है। हादसे की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने तत्काल जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर दी थी। वो खुद मंगलवार की रात वाराणसी पहुंचे और घटना के कारणों की जांच की।

जांच कमेटी मंगलवार देर रात ही शहर में आ गई थी। इधर, बुधवार सुबह वाराणसी के सिगरा थाने में सस्पेंड अफसरों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। सिगरा इंस्पेक्टर की तहरीर पर सिगरा थाने में सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक, पर्यवेक्षण अधिकारी सहित अन्य के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया।

मंगलवार शाम ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के निर्देश पर चार अफसरों को सस्पेंड कर दिया गया था। बताते चलें कि मुख्यमंत्री ने जांच दल से 48 घंटे के अंदर रिपोर्ट मांगी है। माना जा रहा है कि जांच में कई अफसरों पर गाज गिरनी तय है।

आपको बता दें कि निर्माण कार्य के दौरान राहगीरों की सुरक्षा के प्रति गंभीरता न बरतने, ट्रैफिक वालेंटियर्स को तैनात न करने, अराजकतापूर्ण तरीके से कार्य करने के आरोप में 19 फरवरी को सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक के खिलाफ सिगरा थाने में मुकदमा पंजीकृत किया गया था।

मुकदमा दर्ज करने के बाद सिगरा पुलिस ने कार्रवाई को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। वहीं सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक ने मुकदमे को हल्के ढंग से लेते हुए लापरवाह तरीके से निर्माण कार्य जारी रखा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2LcO1AAA

📲 Get Varanasi News on Whatsapp 💬