[moradabad] - जलाने के बाद शिक्षिका को छत से धक्का देकर मार डाला

  |   Moradabadnews

मझोला के आदर्श कालोनी में रहने वाली एक शिक्षिका को मंगलवार को जलाकर तीन मंजिला मकान की छत से धक्का देकर मार डालने का आरोप है। पति समेत ससुराल पक्ष के सात लोगों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। वारदात के बाद आरोपी घर से भागे हुए हैं। उनकी तलाश में पुलिस की टीम दबिश दे रही है।

बागेश्वर जिले के कठपुड़िया छीना स्थित भोलना गांव में रहने वाले पूर्णानंद तिवारी ने बेटी पुष्पा (30) की शादी जून 2011 में मझोला की उत्तरांचल कालोनी में रहने वाले त्रिभुवन कांडपाल से की थी। त्रिभुवन भी निजी स्कूल में शिक्षक था। पुष्पा भी बीएड की पढ़ाई कर चुकी थी। एक निजी स्कूल में शिक्षिका थी। आरोप है कि शादी के बाद ससुराल में पुष्पा को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। कुछ दिन पहले उसका स्कूल जाना भी बंद करवा दिया गया।

पूर्णानंद तिवारी ने बताया कि बेटी की खुशी के लिए उन्होंने कई बार उसके ससुराल वालाें की मांगों को पूरा किया लेकिन वह इसके बाद भी संतुष्ट न हुए। आरोप है कि मंगलवार देर शाम को पुष्पा पर उसके पति त्रिभुवन, ससुर भैरव दत्त, सास, ननद बीना, नंदोई शेखर, देवर, राकेश और पप्पू ने मिट्टी का तेल छिड़ककर उसे जला दिया। वह जान बचाने के लिए छत पर भागी। ससुराल वालों पर आरोप है कि उन्होंने पुष्पा को छत से नीचे धक्का दे दिया।

महिला को उपचार के लिए आस पड़ोस के लोगों की मदद से अस्पताल ले जाया गया। जहां पर उसकी मंगलवार रात को मौत हो गई। वारदात की सूचना पूर्णानंद को पुष्पा के पड़ोसी ने दी। एसपी यातायात सतीश चंद्र ने बताया कि शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। आरोपी पति को हिरासत में लिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4lK6IwAA

📲 Get Moradabad News on Whatsapp 💬