[moradabad] - पांच साल लटकाए रहे गबन की आडिट रिपोर्ट

  |   Moradabadnews

डीपी आर्यमुरादाबाद। जिले की 31 ग्राम पंचायतों में विकास धनराशि में करोड़ों के गबन का मामला लापरवाह अफसरों ने पांच साल से अटकाए रखा। कार्रवाई की अवधि निकल जाने पर आरोपी ग्राम प्रधानों से गबन की राशि वसूली नहीं जा सकी। लेखा विभाग द्वारा मामला विधान परिषद को भेजने के बाद अफसरों में हड़कंप मच गया है। आनन-फानन में ग्राम विकास अधिकारियों को नोटिस जारी किए गए हैं। सीडीओ ने बृहस्पतिवार को आपात बैठक बुलाई है। अब 22 मई को अधिकारियों को विधान परिषद की टीम के सामने पेश होना है।ग्राम पंचायतों को वर्ष 2010-11 में विकास कार्यों के लिए बजट जारी किया गया था। वित्तीय वर्ष के बाद 2012 में आडिट टीम ने धनराशि में गबन का आरोप लगा नोटिस जारी किए। संबंधित ग्राम प्रधानों और ग्राम सचिवों के जवाब न देने पर यह मामला सीडीओ और डीपीआरओ के संज्ञान में लाया गया। डीपीआरओ इस संदर्भ में आडिट टीम से पत्राचार करते रहे। आरोपी ग्राम प्रधानों और ग्राम विकास अधिकारियों को तलब तक नहीं किया गया। इसी बीच आडिट टीम ने पत्रावली वसूली करने और आरोपियों पर रिपोर्ट दर्ज कराने की संस्तुति के साथ विधान परिषद की टीम को भेज दी। इससे अधिकारियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में डीपीआरओ ने संबंधित गांवों के तत्कालीन विकास सचिवों को नोटिस जारी किया है। इनको 2010-11 की मूल पत्रावली व बाउचर लेकर सीडीओ ने तलब किया है। डीपीआरओ को 22 मई को विधान परिषद की विशेष कमेटी के सामने पेश होना है। अधिकारियों का प्रयास है कि मामला पुराना होने की बात कहकर और बाउचर जमा कराकर कमेटी से वसूली और एफआईआर से राहत देने की अपील की जाए। पांच साल बीत जाने के कारण अब ग्राम प्रधानों पर कार्रवाई एक्ट के तहत नहीं की जा सकती है। ग्राम पंचायत गबन की धनराशि (रुपयों में)बिलारी विकास खंड की ग्राम पंचायत -1. सिसौना तारापुर 844002. श्योंडारा 1777083. बगपुरा 1020744. सफीलपुर 850005. रामनगर गंगपुर 787456. धर्मपुर कुइया 595007. सीहाली लददा 133085...बनियाठेर विकास खंड की ग्राम पंचायत - 8. चांदपुर गणेश 187999. भिंडवारी 96999410. जलालपुर 2525588मूंढ़ापांडे की ग्राम पंचायत -11. मानपुर पट्टी 36227 मानपुर पट्टी 268275 मानपुर पट्टी 5000012. धतूरा मेघानगला 20787113. बूझपुर आशा 6381814. दलपतपुर 467031ठाकुरद्वारा विकास खंड की ग्राम पंचायत-15. बालापुर 9736216. कुंडेसरा 26077017. रतुपुरा 190950018. प्रतापपुर 50850019. नन्हूवाला 28592720. राजूपुर कला 10850021. फजुल्लागंज 15035022. रामूवाला शेखू 3500023. लौंगी कला 28550024. रूपपुर टंडोला 62727525. असालतपुर 35000 26. शहबाजपुर कला 151208भगतपुर टांडा विकास खंड की ग्राम पंचायत-27. रानी नांगल 34935828. चांदपुर 46958929. पीपलसाना 1718127कुंदरकी विकास खंड की ग्राम पंचायत-30. इमरतपुर फकरुद्दीन 16010031. जिगनिया 140900 जिगनिया 140340आडिट टीम ने 31 ग्राम पंचायतों में गबन पकड़ा था। कई बार आडिट टीम को बाउचर उपलब्ध कराए गए, लेकिन उनको रिकार्ड में नहीं लिया गया। इसी पत्राचार में पांच साल का समय बीत गया। अब मामला विधान परिषद पहुंच गया है। वहां 22 मई को कार्रवाई रिपोर्ट प्रस्तुत करनी है। ग्राम सचिवों को नोटिस जारी कर दिए गए हैं। पांच साल बीत जाने के चलते ग्राम प्रधानों पर कार्रवाई संभव नहीं है।राजेश कुमार सिंह, डीपीआरओ।ग्राम पंचायतों में सरकारी धन का गबन किया गया। मांगने के बावजूद खर्च का रिकार्ड प्रस्तुत नहीं किया। लेखा मैनुअल के अनुसार यह संज्ञेय अपराध है। स्थानीय स्तर पर कार्रवाई न होने पर नियत प्रक्रिया के तहत यह मामला विधान परिषद भेजा गया है। गबन की धनराशि को वसूल करने और आरोपियों पर आपराधिक अभियोग दर्ज करने की सिफारिश की गई है।-एके चौबे, जिला लेखा एवं परीक्षा अधिकारी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/fKq35AAA

📲 Get Moradabad News on Whatsapp 💬