👉कश्मीर में बंपर 🌨बर्फबारी, चौथे दिन भी जम्मू-श्रीनगर🛣 हाईवे बंद

  |   समाचार

जम्मू एवं कश्मीर में भारी बर्फबारी के कारण 300 किलोमीटर लंबा जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे चौथे दिन भी बंद रहा। इसके बाद जवाहर टनल के पास सैकड़ों ट्रक हाईवे पर खड़े हो गए। हाईवे बंद होने के कारण कुछ पर्यटक काफी परेशान दिखे तो वहीं कुछ लोगों ने मौके का फायदा उठाते हुए टनल के पास हो रही बर्फबारी का जमकर लुत्फ उठाया।

जवाहर सुरंग इलाके में हिमस्खलन होने के बाद जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर वाहनों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी गई। साथ ही परिवहन विभाग ने मौके की स्थिति का जायजा लेने के लिए अपनी टीम भेज दी है। परिवहन विभाग के अधिकारियों ने कहा, 'रामबन जिले के कुछ स्थानों पर भूस्खलन से राजमार्ग अवरुद्ध हो गया है, जिनमें डिगडोल, पंथाल, मगरकोट और खूनी नाला शामिल हैं।' वहीं एक अन्य परिवहन अधिकारी ने कहा, 'बनिहाल सेक्टर में ताजा बर्फबारी हुई है।

एक ट्रैफिक अधिकारी ने कहा, 'राजमार्ग पर किसी भी प्रकार के वाहनों के आवागमन की अनुमति नहीं दी जाएगी। मौसम में सुधार के बाद ही भूस्खलन के मलबे को हटाया जाएगा।' जम्मू एवं कश्मीर में के जम्मू संभाग में बारिश हुई। वहीं, घाटी में कई जगह बर्फबारी हुई। मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार की शाम तक मौसम में सुधार की संभावना है।

मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने कहा, 'जम्मू और कश्मीर में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के कारण पिछले 24 घंटों में जम्मू संभाग में बारिश और घाटी में बर्फबारी हुई।' अधिकारी ने कहा, 'मंगलवार शाम से पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव कम होना शुरू हो जाएगा और कल के बाद से मौसम में सुधार की संभावना है।'

मंगलवार को जम्मू एवं कश्मीर के रामबन जिले में हुए हिमस्खलन में 2 लोग जिंदा दफन हो गए। वहीं अन्य दो लापता लोगों को जवानों ने ढूंढ निकाला। पुलिस ने कहा, 'हिमस्खलन की यह घटना त्रिगाम गांव में शाम लगभग 3 बजे हुई, जिसमें 2 लोग दब गए। मृतकों की पहचान मुहम्मद रफीक (25), और सुमेरना (12) के रूप में हुई है। दो महिलाएं, फातहा बेगम और तजा बेगम लापता थीं, जिन्हें ढूंढ निकाला गया। ये लोग अपने घर जा रहे थे, जब हिमस्खलन की यह घटना घटी।'

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/VWpwDAAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬