[allahabad] - दबंगई का विरोध करने वालों को ही थाने उठा लाई पुलिस

  |   Allahabadnews

प्रयागराज। मुट्ठीगंज में दबंगई का विरोध करना पिता-पुत्री को महंगा पड़ा। पीटे जा रहे बुजुर्ग रिक्शा चालक को बचाने पहुंचने पर पुलिस उन्हें ही थाने उठा लाई। बाद में मुकदमे का दबाव बनाकर दोनों पक्षों मेें समझौता करा दिया। हालांकि पूछने पर इंस्पेक्टर इसे आपसी विवाद का मामला बताते रहे।

घटना हटिया चौकी के पास सोमवार रात 10 बजे के करीब हुई। यहां रहने वाली छात्रा पिता के साथ बाहर परीक्षा देने गई थी। रात 10 बजे के करीब दोनोें रिक्शे से वापस आए। रिक्शे से उतरकर दोनों घर जबकि रिक्शा चालक वापस जाने लगा। इसी दौरान मोहल्ले में ही रहने वाले एक व्यक्ति खड़ा था। बुजुर्ग रिक्शा चालक ने उसे बगल हटने को कहा तो आगबबूला होकर उसने उसे पीटना शुरू कर दिया। रिक्शा चालक के मदद के गुहार लगाने पर पिता-पुत्री भागकर पहुंचे तो आरोपी उनसे ही गालीगलौच करने लगा। सूचना पर पहुचंी डायल 100 पुलिसकर्मियोें से भी अभद्रता की। जानकारी दी गई तो थाने से पुलिसकर्मी पहुंचे लेकिन वह आरोपी के साथ ही रिक्शा चालक व उसे बचाने पहुंचे पिता-पुत्री व उसके भाई को भी थाने उठा लाई। पिता-पुत्री ने आरोप लगाया कि आरोपी की पुलिस से सांठगांठ है और यही वजह रही कि कार्रवाई की बजाय उल्टा उन पर ही समझौते का दबाव बनाया गया। न मानने पर मुकदमा दर्ज करने की धमकी दी गई। आखिरकार बिना किसी कार्रवाई के ही पुलिस ने आरोपी को छोड़ दिया। इस बारे में मुट्ठीगंज इंस्पेक्टर तारकेश्वर राय से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि पिता-पुत्री और रिक्शा चालक को पीटने के आरोपी रिश्तेदार हैं और उनमें जमीन का विवाद है। इसी को लेकर आरोप-प्रत्यारोप होता रहताहै। पुलिस ने किसी पर कोई दबाव नहीं बनाया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ss_yTQAA

📲 Get Allahabad News on Whatsapp 💬