[baghpat] - कला के माध्यम से उकेरे गए मन के भाव

  |   Baghpatnews

बागपत। सम्राट पृथ्वीराज चौहान डिग्री कॉलेज में तीन दिवसीय कला प्रदर्शनी का समापन हुआ। प्राचार्य डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि मंगलवार को कला प्रदर्शनी में कलाकारों ने रंगबिरंगी चित्रकारी करके सभी का मनमोह लिया। अंतिम दिन मुख्य अतिथि अंतर्राष्ट्रीय चित्रकार किरण पुंडीर रही। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति और अलग-अलग रीति रिवाज है। कलाकार अपनी कलाओं के माध्यम से संस्कृति और रीति रिवाजों को प्रस्तुत करता है। जयपाल सिंह ने बताया कि हम अपने अंतरमन विचारों एवं भावों को कलाकृतियों से प्रस्तुत कर सकते हैं। दिगंबर जैन डिग्री कॉलेज की चित्रकला विभाग की प्रवक्ता डॉ. गीता राणा ने कहा कि चित्रों के माध्यम से ही प्रत्येक व्यक्ति की मनोभावों और विचारों को उकेरा जा सकता है। देहरादून से आई संतोष सहानी ने चित्रकारों की कलाकृतियों की प्रशंसा की। चित्रकारों को सम्मानित किया गया। संचालन डॉ. विद्योत्तमा ने किया। संयोजक डॉ. सुनील चौहान, सहसंयोजक डॉॅ. पूनम चौहान का सहयोग रहा। अध्यक्ष सत्यपाल चौहान, जयपाल प्रधान, दिनेश प्रधान, धारा सिंह, डॉ. नीरू सिंह मंचासीन रहे। इस दौरान डॉ. कुलदीप त्यागी, विश्वनाथ गौतम, डॉ. राजीव चौहान, डॉ. अरविंद वर्मा, संजय चौहान, तरुण चौहान भी मौजूद रहे।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/DXNIRgAA

📲 Get Baghpat News on Whatsapp 💬