[baran] - पास नहीं आ रहा हुनर से जीवन में उजास

  |   Barannews

जिले में बेपटरी व्यवसायिक शिक्षा

शैक्षिक सत्र में अब तक नहीं मिली छात्र, छात्राओं को पुस्तकें

मानदेय पर पदस्थ प्रशिक्षक अब छोडऩे लगे हैं स्कूल

बारां. सरकार ने हुनर से जीवन संवारने के लिए छात्र, छात्राओं को व्यवसायिक शिक्षा से तो जोड़ दिया, लेकिन न तो इन्हें पुस्तकें उपलब्ध कराई और न ही इन्हें हुनर सिखाने के लिए शिक्षक, ऐसे में इनका जीवन उजास से दमकने के बजाए अंधकार की गर्त में गोते लगा रहा है। जबकि अब वार्षिक परीक्षा शुरू होने में करीब सवा दो माह का समय शेष है। जिले के 25 स्कूलों मेंं व्यावसायिक शिक्षा संचालित है। इनमें ब्यूटी वेलनेस, हैल्थ केयर, आईटी, गृह सज्जा, इलेक्ट्रोनिक्स व टेक्सटाइल आदि विषयों का संचालन होता है। प्रत्येक स्कूल में कम से कम दो विषय संचालित हैं। इन विषयों में छात्र, छात्राओं को पारंगत के लिए दो प्रशिक्षकों की संविदा के आधार पर नियुक्ति की हुई है।...

फोटो - http://v.duta.us/-LRJNQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/h5t0aQAA

📲 Get Baran News on Whatsapp 💬