[bareilly] - खतौनी कांड

  |   Bareillynews

खतौनी कांड

डेढ़ साल, सात विवेचक बदले.. जांच फिर भी अधूरी

क्रासर

दस पर हुई रिपोर्ट में सिर्फ दो हुए गिरफ्तार, बाकी स्टे ले आए

फरीदपुर वाले मामले में आठ पर रिपोर्ट, सभी को जमानत मिल गई

बरेली। खतौनी में हेराफेरी होने के मामले को पुलिस गंभीरता से नहीं ले रही है। कोतवाली में करीब डेढ़ साल पहले दर्ज हुए मामले में सात विवेचक बदल गए और अब तक विवेचना जारी है। वहीं, फरीदपुर में दर्ज हुए मामले में आठ लोगों के खिलाफ चार्जशीट लगी और सभी ने जमानत करा ली।

कोतवाली में वर्ष 2017 में खतौनी में हेराफेरी कर पूर्वजों के नाम दर्ज कराने के मामले में तत्कालीन प्रभारी अधिकारी राजस्व अरुणमणि ने फतेहगंज पूर्वी के वाहिद बेग, ताहिर बेग, फैयाज बेग, मोहम्मद बेग, आसिफ बेग, जाहिद बेग, शाहिद बेग और मुख्य लिपिक ऊषा जयंत, आरके विनोद कुमार एवं शैली जौहरी पर रिपोर्ट हुई थी। अब तक इस मामले में सात विवेचक बदल चुके हैं। मगर कोतवाली पुलिस सिर्फ फैयाज और शाहिद के खिलाफ चार्जशीट लगाकर जेल भेज सकी है। बाकी सभी हाईकोर्ट से स्टे ले आए। वहीं फरीदपुर में खतौनी खुरचने के मामले में 25 अप्रैल 2015 को तत्कालीन रजिस्ट्रार-कानूनगो रामनिवास ने फतेहगंज पूर्वी के वाहिद बेग, फैयाज बेग, ताहिर बेग, मोहम्मद बेग, आसिफ बेग, शाहिद बेग और जाहिद बेग के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस मामले में पुलिस ने रजिस्ट्रार-कानूनगो रामऔतार का नाम विवेचना में खोला था। सभी के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट भेजी गई, लेकिन पुलिस की लचर पैरवी की वजह से सबको जमानत मिल गई।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/CWp8BgAA

📲 Get Bareilly News on Whatsapp 💬