[etah] - गोवंशों के अस्थायी आशियाने को जमीन तलाश शुरू

  |   Etahnews

कासगंज। गोवंशों के संरक्षण के लिए अभी और अस्थायी आश्रय स्थल बनाए जाने हैं। जिले में 14 अस्थायी आश्रयों के लिए जमीन तलाशी जा रही है। तीन आश्रयों के लिए जमीन का चयन हो गया है। विकासखंडवार आश्रय स्थल बनाए जाने की योजना प्रस्तावित है।

जिले में एक अस्थायी आश्रय स्थल, दो गोशालाएं एवं 4 कान्हा केंद्र हैं, लेकिन गोवंशों की संख्या एक हजार से अधिक होने के कारण आश्रय स्थलों पर अव्यवस्थाएं हो गई हैं। जबकि बेसहारा गोवंशों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में प्रशासन ने जिले में विकास खंडवार दो-दो आश्रय स्थल बनाने की योजना बनाई है। कुल 14 अस्थायी आश्रय स्थल और बनाए जाने हैं। पशु चिकित्सा विभाग ने तीन आश्रय स्थल बनाने के लिए भूमि का चयन भी कर लिया है। इसमें अमांपुर के नगला भामा, सिढ़पुरा के पिथनपुर और कासगंज के तवालपुर में जगह का चयन किया गया है। प्रशासन ने गोवंशों के संरक्षण के लिए पशु चिकित्सा विभाग के अलावा राजस्व टीमों को भी दिशा निर्देश दिए हैं। गांव गांव गोवंशों की निगरानी भी की जा रही है। गोवंश अभी भी फसलों में विचरण कर रहे हैं। जिससे गेहूं, जौ की फसल बर्बाद हो रही है। ग्रामीण प्रेमपाल ने बताया कि फसलों की बर्बादी गोवंश कर रहे हैं। प्रशासन किसी तरह समस्या का समाधान कराए।...

फोटो - http://v.duta.us/ODCkWgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jEg4GwAA

📲 Get Etah News on Whatsapp 💬