[hoshangabad] - तहसीलदार बने ग्राहक बताए ज्यादा दाम, स्टाम्प विक्रेता का लाइसेंस निलंबित

  |   Hoshangabadnews

होशंगाबाद। सुपरली निवासी एक ग्रामीण से स्टांप पेपर पर अतिरिक्त राशि वसूले जाने के मामले में जिला पंजीयक ने

स्टांप विक्रेता का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया। जिला पंजीयक ने यह कार्रवाई कलेक्टर कार्यालय के आदेश पर की। स्टांप विक्रेता का लाइसेंस ७ दिन के लिए सस्पेंड किया गया है। स्टांप विक्रेता पर यह गाज इसलिए गिरी क्योंकि उसने अपनी दुकान पर ग्राहक बनकर आए किसान नेता और तहसीलदार को बिना पहचाने ही स्टांप की कीमत तय रेट से ज्यादा बता दी थी।

यह है मामला

किसान संगठन के साथ सोमवार को कलेक्ट्रेट में बैठक का आयोजन हुआ था। इस बैठक में भारतीय किसान संघ के प्रांतीय अध्यक्ष लीलाधर राजपूत ने किसानों द्वारा पंजीयन के लिए खरीदे जाने वाले स्टांप पेपरों पर ओवरचार्जिंग किए जाने की शिकायत की थी। इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर आशीष सक्सेना ने तहसीलदार शैलेन्द्र बडोनिया को जांच करने के लिए कहा था। तहसीलदार बडोनिया किसान नेता लीलाधर राजपूत को साथ लेकर ग्राहक की तरह स्टांप विक्रेताा कमलेश गोल्हानी की दुकान पर पहुंचे और उन्होंने स्टांप पेपर के दाम के बारे में पूछताछ की। किसान नेता लीलाधर राजपूत ने स्टांप विक्रेता कमलेश गोल्हानी से 100 रुपए के स्टांप का फाइनल दाम बताने के लिए कहा तो स्टांप विक्रेता ने ११० रुपए में देने की बात कबूल ली। यह घटनाक्रम होते ही तहसीलदा बडोनिया ने स्टांप विक्रेता के खिलाफ पंचनामा बनाकर जांच प्रतिवेदन कलेक्टर कार्यालय में प्रस्तुत कर दिया। कलेक्टर कार्यालय ने जिला पंजीयक को स्टांप विक्रेता का लाइसेंस सस्पेंड करने के निर्देश जारी कर दिए। कलेक्टर कार्यालय के आदेश पर जिला पंजीयक ने ७ दिन के लिए स्टांप विक्रेता का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया है।...

फोटो - http://v.duta.us/yLbs5QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Ol4TVQAA

📲 Get Hoshangabad News on Whatsapp 💬