[jaisalmer] - सरकारी फरमान के बाद जागे जिम्मेदार, फिर भी रात 8 बजे के बाद चोरी-छिपे बिक रही मदिरा!

  |   Jaisalmernews

जैसलमेर. प्रदेश में रात 8 बजे हर हाल में शराब के ठेकों पर ताले जडऩे के सरकारी फरमान के बाद अब आबकारी महकमा और पुलिस विभाग सीमावर्ती जैसलमेर जिले में अलर्ट मोड पर आ गए हैं। जैसलमेर शहर में रात 8 बजे जैसलमेर मुख्यालय पर स्थित अंग्रेजी और देसी शराब की दुकानों पर पुलिस की गश्त लगाई गई है। आबकारी विभाग की टीम भी दौरा कर रही हैं। हालांकि ग्रामीण इलाकों सहित जैसलमेर शहरी क्षेत्र में ही कई शराब की दुकानों पर रात 8 बजे के बाद 10 बजे तक चोरी-छिपे शराब की बिक्री हो रही है। पत्रिका टीम ने शहर स्थित शराब की कुछ दुकानों का रात 9 से 9.30 बजे तक दौरा किया। इस दौरान अधिकांश दुकानों के बाहर व आसपास पुलिस के जवान तैनात दिखाई दिए और दुकानें भी बंद थी, लेकिन कुछ दुकानों के पीछे वाले दरवाजे से चोरी-छिपे शराब बेची जा रही थी। जिले में इक्का-दुक्का औपचारिक कार्रवाइयों के अलावा कभी भी देर रात तक दुकानें खुली रहने के बावजूद शराब के कारोबारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। एक ओर आबकारी विभाग को रात 8 बजे बाद शराब की दुकानों को अनिवार्य रूप से बंद करवाने के सरकारी निर्देश प्राप्त हैं, वहीं मौजूदा वित्त वर्ष में विभाग को 116 करोड़ रुपए का राजस्व जैसलमेर जिले से संग्रहित करने का लक्ष्य भी सरकार ने दिया है। जानकारी के अनुसार विभागीय अधिकारियों को उच्चाधिकारी लक्ष्य के अनुरूप राजस्व संग्रहित करने के लिए समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी कर रहे हैं। विभाग को उम्मीद है कि 31 मार्च 2019 को खत्म होने वाले वित्त वर्ष में 96 करोड़ रुपए का राजस्व संग्रहित कर लिया जाएगा।...

फोटो - http://v.duta.us/8nLgtwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/HuXLkAAA

📲 Get Jaisalmer News on Whatsapp 💬