[jammu] - ‘जम्मू-कश्मीर से बाहर शादी करने पर भी स्थायी निवास व संपत्ति का अधिकार नहीं गंवाती महिला’

  |   Jammunews

जम्मू-कश्मीर की महिला राज्य के बाहर के पुरुष से शादी करने पर भी संविधान के अनुच्छेद 35-ए के तहत अपना स्थायी निवास और संपत्ति का अधिकार नहीं गंवाती है। यह कहना है राज्य सरकार के पूर्व महाधिवक्ता इशाक कादरी का। यह टिप्पणी मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट की ओर से अनुच्छेद 35-ए की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई की तारीख पर फैसला चैंबर में लेने के निर्णय के बाद दी है।

कादरी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय की पूर्ण पीठ ने अक्तूबर 2002 में राज्य एवं अन्य बनाम डॉक्टर सुशीला साहनी एवं अन्य मामले में राज्य विषय (स्थायी निवास) कानून की उस शर्त को खारिज करके मामले को सुलझाया था जिसमें कहा गया था कि महिला के राज्य से बाहर शादी करने पर उसका स्थायी निवास दर्जा चला जाएगा। पीठ ने सात अक्तूबर 2002 को इस महत्वपूर्ण फैसले में कहा था कि जम्मू-कश्मीर के स्थायी निवासी की बेटी के राज्य के बाहर के किसी व्यक्ति से शादी करने पर भी उसका स्थायी निवासी का दर्जा नहीं जाएगा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/L-sJSQAA

📲 Get Jammu News on Whatsapp 💬