[lakhimpur-kheri] - आम के पेड़ पर गिरी बिजली

  |   Lakhimpur-Kherinews

ममरी (लखीमपुर खीरी)। मंगलवार सुबह बिजली गिरने से महेशपुर रेंज कोठी में तिरपाल के नीचे बंधी गंगाकली हथिनी बाल-बाल बच गई। बिजली गिरते ही वनकर्मियों, महावतों और चारा कटर में अफरातफरी मच गई।

इलाके में सोमवार शाम से हल्की बारिश और हवा से मौसम ठंडा हो गया था। मंगलवार सुबह को महेशपुर रेंज स्थित कोठी परिसर में आम के पेड़ से लगे तिरपाल के नीचे हथिनी (गंगाकली) बंधी थी। आसमान में बादल छाए थे। वनकर्मियों के अनुसार बादलों की गड़गड़ाहट के साथ बिजली आम के पेड़ पर गिरी। धमाका इतना तेज था कि गंगाकली हथिनी के पैरों में पड़ी लोहे की जंजीरें टूट गईं और पेड़ की टहनियां फट गईं। यहां तक कि पेड़ की छाल नीचे तक छिल गई। हथिनी भी चिंघाड़ने लगी। महावत ने दौड़कर हथिनी को अन्यंत्र हटाया। बिजली गिरने की सूचना पाते ही रेंजर बनारसी दास शाक्य समेत तमाम वनकर्मी मौके पर पहुंच गए। रेंजर ने बताया कि गनीमत रही कि हथिनी सकुशल बच गई। बाघ प्रभावित क्षेत्र में कॉबिंग करने के लिए दो महीने पूर्व दुधवा पार्क से आयी गंगाकली हथिनी अभी तक महेशपुर रेंज कोठी में मौजूद है। जिसके रहने के लिए वहां खड़े आम के पेड़ के बगल में तिरपाल का वेश कैंप बनाया गया है। सूचना दुधवा पार्क के अधिकारियों को दे दी गई है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/80z1vgAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬