[rajsamand] - VIDEO : पन्नाधाय कविता के रचियता सोहनलाल चौधरी बोले- चित्तौडग़ढ़ की मिनारों से मिली इतिहास लिखने की सीख

  |   Rajsamandnews

लक्ष्मणसिंह राठौड़ @ राजसमंद

रेलमगरा कस्बे के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की कक्षा 8 में अध्ययनरत नेहा वैष्णव द्वारा प्रस्तुत की गई पन्नाधाय के बलिदान पर आधारित कविता, जो इन दिनों सोशल मीडिया पर छा रही है और हजारों लाइक के साथ सुर्खियों में है, उसके रचयिता चित्तौडग़ढ़ जिले के गंगरार के रहने वाले सोहनलाल चौधरी हैं। गंगरार तहसील क्षेत्र के छोटे से गांव चोंगावड़ी के निवासी सोहनलाल से पत्रिका ने उनके रचनाधर्म को लेकर बातचीत की। चौधरी ने अपनी स्कूली शिक्षा पूर्ण करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए चित्तौडग़ढ़ के महाविद्यालय में प्रवेश लिया। उच्च शिक्षा ग्रहण करने के दौरान ही चित्तौडग़ढ़ के किले की एतिहासिक प्राचीरों को देखकर उस समय रहे इतिहास के लम्हों के दृश्य को आत्मसात करते हुए ही उन्होंने उसे शब्दों में पिरोते हुए कविता का रूप देने का प्रयास शुरू कर दिया। इसी दौरान उन्होंने चित्तौडग़ढ़ किले से जुड़े इतिहास को लेकर एक मार्मिक कविता लिखी, जो अखबारों में प्रकाशित भी हुई थी। एक बार उनकी कविता अखबार में प्रकाशित हुई तो आगे और भी कविताएं लिखने की प्रेरणा जागी और चौधरी ने शिक्षा के साथ-साथ कविताएं लिखना शुरू कर दिया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ODU-IQAA

📲 Get Rajsamand News on Whatsapp 💬