[sheopur] - श्योपुर के नागदा वाले बाबा ही थे सुभाष चंद्र बोस!

  |   Sheopurnews

श्योपुर,

देश की स्वतंत्रता संग्राम में मुख्य भूमिका निभाने वाले और आजाद हिंद फौज का गठन करने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती आज पूरा देश मना रहा है। लेकिन मौत आज भी रहस्य ही बनी हुई हो, ऐसे में जिले के उनके अनुयायियों का आज भी दावा है कि श्योपुर जिले के नागदा में 40 साल तक रहे एक बाबा ही सुभाष बोस थे।

यही वजह है कि भारत सरकार द्वारा गठित किए गए मुखर्जी आयोग का एक दल 17 साल पूर्व श्योपुर आया था और यहां नागदा व श्योपुर में विभिन्न वस्तुएं देखी और जानकारी एकत्रित की। हांलाकि मुखर्जी आयोग भी नेताजी के जीवन के अंतिम समय में श्योपुर में होने की पुष्टि नहीं कर पाया, लेकिन श्योपुर के लोग आज भी मानते हैं कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस अपने जीवनकाल के अंतिम दिनों में श्योपुर के नागदा में ही रहे। यही वजह है कि अप्रत्यक्ष रूप से ही सही श्योपुर का नाम नेताजी सुभाष के साथ जुड़ गया।...

फोटो - http://v.duta.us/VsuUpgAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gSSupAAA

📲 Get Sheopur News on Whatsapp 💬