चना बीज के लिए भटक रहे किसान

  |   Karaulinews

हिण्डौनसिटी.कृषि विभाग की ओर से रबी की फसल में चना की बुवाई के लक्ष्य आवटित प्रमाणिक बीज वितरण के लक्ष्य ऊंट के मुंह में जीरा साबित हो रहे हैं। जिले मेंं अनुदान पर वितरण के लिए मिला चना का बीज बुवाई लक्ष्य की तुलना में दस फीसदी से कम है। ऐसे में किसान बुवाई के दौर में अनुदान पर प्रमाणित चना के बीच के लिए वितरण केंद्रों के चक्कर काट रहे हैं।

कृषि विभाग की ओर से इस वर्ष जिले में चने की बुवाई का लक्ष्य 8 हजार हैक्टेयर तय किया है। सरकार की ओर से अनुदान पर जिले में महत 500 क्विंटल चना का बीच ही अनुदान पर वितरण के लिए आवंटित किया है। बुवाई के रकबे की तुलना में काफी कम बीज आने से शुरुआती दौर में ही वितरण केन्द्रों से अनुदानित श्रेणी का बीज किसानों की मांग की तुलना में कम पड़ रहा है। बीज की अपर्याप्तता से जिले के जरुरत मंद किसान अनुदानित चना बीच से वंचित रह रहे हैं। किसानों का कहना है कि दशहरा के बाद तापमान में गिरावट आने से चने की बुवाई जोरों पर है, लेकिन सरकारी अनुदान के बीज नहीं मिलने से बीज खरीदना जेब पर भारी पड़ रहा है।...

फोटो - http://v.duta.us/reg8rwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/QqXxkgAA

📲 Get Karauli News on Whatsapp 💬