दो लाख लेकर कलेक्टर कार्यालय से नियुक्ति का जारी किया फर्जी आदेश

  |   Betulnews

बैतूल। कलेक्टर कार्यालय में नौकरी लगाने के पर फर्जीवाड़ा सामने आया है। पीडि़त एक व्यक्ति से शहर के ही दो युवकों ने दो लाख रुपए ले लिए और बदले में नियुक्ति का कलेक्टर कार्यालय का फर्जी आदेश जारी कर दिया है। इतना ही नहीं पीडि़त युवक को कलेक्टर कार्यालय के जी -४ की फर्जी चॉबी भी दे दी। पीडि़त ने इस मामले की शिकायत एसपी कार्यालय में कर कार्रवाई की मांग की है।

एसपी कार्यालय में सौंपे आवेदन में शहर से लगभग पांच किमी दूर ग्राम भैंसदेही निवासी अनिता सिहारे ने बताया कि अपने बेटे शिवशंकर की नौकरी कलेक्टर कार्यालय में लगाने के नाम पर रिजवान उर्फ रज्जू निवासी टिकारी और गणराज उर्फ निशांत, उर्फ पिं्रस निवासी चंद्रशेखर वार्ड ने दो लाख रुपए ले लिए। अलग-अलग किस्तों में यह राशि ली। ११ मई २०१९ से यह राशि दी गई। नौकरी लगाने के नाम पर दोनों युवकों को कर्जा और जेवर गिरवी रखकर यह राशि दी गई। पीडि़त ने बताया कि राशि लेने के बाद दोनों युवकों ने कलेक्टर कार्यालय से नियुक्ति का फर्जी आदेश जारी कर दिया। जिसमें कलेक्टर के फर्जी हस्ताक्षर भी किए गए हैं। इतना ही नहीं कार्यालय की जी ४ कमरे की चॉबी सौंप दी। शिवशंकर चॉबी लेकर कलेक्टर कार्यालय भी पहुंच गया। कमरा जी-४ के ताले में चॉबी लगाने पर पता चला कि यह चॉबी अन्य ताले की है। युवकोंं द्वारा पैसों भी वापस नहीं किए जा रहे हैं और जान से मारने की धमकी दी जा रही है। पीडि़त ने युवकों पर कार्रवाई और पैसे वापस दिलाने की मांग की है।...

फोटो - http://v.duta.us/G471DgAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/z9RwMAAA

📲 Get Betul News on Whatsapp 💬