सामान्य मरीजों के लिए बनेगा अलग अस्पताल

  |   Bhopalnews

भोपाल. सामान्य बीमारियों के मरीज इलाज के लिए अब सीधे एम्स अस्पताल नहीं जा सकेंगे। मरीजों की स्क्रीनिंग के बाद यहां उपचार होगा। दरअसल, एम्स में जल्द ही नया हॉस्पिटल (वेदर डिसीज स्क्रीनिंग सेंटर) शुरू होगा। यहां मौसमी समेत सामान्य बीमारियों का उपचार किया जाएगा। गंभीर होने पर मरीजों को एम्स के मुख्य अस्पताल में रैफर करेंगे। नए अस्पताल का निर्माण एम्स की खाली जमीन पर 15 करोड़ की लागत से होगा। सेंटर में मरीजों व परिजनों के ठहरने की व्यवस्था होगी। अस्पताल अधीक्षक डॉ. मनीषा श्रीवास्तव ने बताया कि एम्स की ओपीडी में रोजाना दो हजार से अधिक मरीज आते हैं। कई मरीजों की उसी दिन जांच या इलाज नहीं हो पाती। स्क्रीनिंग सेंटर बनने से यह समस्या खत्म हो जाएगी। मालूम हो कि एम्स में सामान्य बीमारियों के मरीज भी बड़ी संख्या में आते हैं। दरअसल, एम्म टर्शरी केयर संस्था होने के साथ-साथ सुपर स्पेशिएलिटी सेंटर भी है, जहां गंभीर मरीजों का उपचार किया जाता है। फिलहाल एम्स में हर रोज दो हजार से ज्यादा मरीज इलाज के लिए पहुंचते हैं, लेकिन इनमें से 80 फीसदी मरीज सामान्य और मौसमी बीमारियों के होते हैं। ऐसे में गंभीर मरीजों को भी लंबा इंतजार करना पड़ता है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी इस समस्या को हल करने की बात कह चुके हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/dVroHQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/kUT0wAAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬