अफसरों के साथ बैठक के बाद परिवहन आयुक्त ने कही यह बात

  |   Gwaliornews

ग्वालियर। पुलिस विभाग के बाद परिवहन विभाग मेरे लिए नया है। मैं सबसे पहले इस विभाग का अध्ययन कर रहा हूं। विभाग के राजस्व को लेकर टारगेट पूरा करना है। चार हजार करोड़ का टारगेट विभाग के पास है। अब पांच महीने शेष बचे हैं। इन पांच महीने में टारगेट पूरा करना है। यह बात परिवहन विभाग के नवागत परिवहन आयुक्त वी मधुकुमार ने पत्रकारों से औपचारिक चर्चा के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान मैंने राजस्व को लेकर चर्चा की है। अभी राजस्व की कम वसूली हुई है। इस बात के कारण बैठक के दौरान अधिकारियों से बातचीत की तो उन्होनें कहा कि बारिश के दौरान वाहनों का मूमेंट कम होता है। अक्टूबर महीने से वाहनों का मूमेंट बढ़ता है। पंजीयन का ग्राफ भी बढ़ेगा। इसके बाद राजस्व वसूली भी बढ़ेगी। पत्रिका द्वारा राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली सहित अन्य राज्यों में बसों के संचालन का विवाद पर प्रश्न पूछे जाने पर कहा कि इस मामले को भी मैंने संज्ञान में लिया है। यह मध्य प्रदेश का पांच राज्यों से सीधे तौर पर बसों का परिवहन का आवागमन है। इन का विवाद क्यों चला आ रहा है। इस की वजह जानकर हल करने का प्रयास करूंगा। मेरा काम विभाग में आने वाले शिकायतों को प्राथमिकता से हल करना है।

फोटो - http://v.duta.us/V6v2ygAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/ZBZJzwAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬