अस्पताल पहुंची गैंगरेप पीड़िता को डॉक्टरों ने लौटाया, कोर्ट के आदेश पर शुरू हुआ इलाज

  |   Biharnews

सुपौल. बिहार में एक बार फिर से डॉक्टरों की संवेदनहीनता का मामला सामने आया है. घटना सुपौल (Supaul) की है जहां रेप पीड़िता (Rape Victim) का इलाज करने से डॉक्टरों ने मना कर दिया. दरअसल सुपौल स्थित राघोपुर में 8 अक्टूबर गैंगरेप (Gang Rape) का शिकार बनी पीड़िता की हालत अचानक फिर से बिगड़ गई. पीड़िता की तबियत बिगड़ने के बाद कोर्ट के आदेश से उसे तुरंत सदर अस्पताल लाया गया. इस दौरान डॉक्टरों ने पीड़िता का इलाज करने से मना कर दिया.

डीएम को देना पड़ा दखल

कोर्ट के आदेश की चिट्ठी रिसीव करने को लेकर डॉक्टर और परिजनों के बीच घंटो हंगामा हुआ जिसके बाद डीएम की पहल से पीड़िता का इलाज शुरू हो सका. सीएस को भेजे गए निर्देश में अपर जिला सत्र न्यायधीश प्रथम ने अविलम्ब पीड़िता का इलाज शुरू करने का निर्देश दिया साथ ही सीएस को न्यायालय ने निर्देश जारी कर पीड़िता के इलाज में प्रगति से न्यायालय को भी अवगत कराने का भी निर्देश दिया. इसके बाद पुलिस अधिकारी पीड़िता को सदर अस्पताल लेकर पहुंचे जहां ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर ने कोर्ट के आदेश को रिसीव तक करने से इनकार कर दिया. इसके बाद घंटो इस बाबत हंगामा होता रहा....

फोटो - http://v.duta.us/IRgBcAAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/oWjTewAA

📲 Get Bihar News on Whatsapp 💬