उपज का भुगतान करने में व्यापारी कर रहे मनमानी

  |   Ujjainnews

उज्जैन. उचित मोल..सटीक तौल व त्वरित भुगतान के सूत्रवाक्य में से तौल को छोड़कर दोनों बातों को कृषि मंडी में धता बताया जा रहा है। यहांं किसानों को न तो उपज का उचित मोल मिल रहा न ही बेचने के बाद त्वरित भुगतान हो रहा। प्रकृति की मार से परेशान किसान अब मंडी व्यापारियों की मनमानी की मार झेल रहे हैं। उपज बेचने के बाद खाते में राशि डालने में तीन से लेकर पांच दिन तक लग रहे हैं। इसी बीच यदि बैंक की छुट्टी आ जाए तो फिर आहरण का झंझट। नकदी के अभाव में किसान शहर से जरूरी सामान व खरीदी नहीं कर पा रहे। सोमवार को भुगतान में देरी पर एक किसान के पेट्रोल की कुप्पी लेकर मंडी कार्यालय पहुंचने की घटना के बाद मंगलवार को पत्रिका ने मंडी में भुगतान स्थिति को लेकर किसानों से चर्चा की।...

फोटो - http://v.duta.us/s0opEwAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/RB5BbwAA

📲 Get Ujjain News on Whatsapp 💬