कान्हा की 'कालिंदी' में गिर रहे 'कालिया नाग' रूपी गंदे नाले, आचमन योग्य नहीं रहा जल

  |   Mathuranews

भगवान श्रीकृष्ण की लीलाओं की साक्षी यमुना को भले ही ब्रजवासी महारानी, कालिंदी आदि नामों से पुकारते हों, लेकिन प्रदूषण रूपी कालिया आज भी उसके गले की फांस बना हुआ है। गंदे नालों का पानी यमुना में गिरने से लाख दावों के बाद रोका नहीं जा सका है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड यमुना जल को स्नान और आचमन योग्य नहीं मानता है।

हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक ने यमुना को प्रदूषण से बचाने के लिए कई दफा आदेश निर्देश जारी किए। अधिकारियों की क्लास तक लगाई लेकिन पूरे शहर की गंदगी को ढोने वाले नाले सीधे यमुना में गिरने से नहीं रोके जा सके। वर्तमान में भी नालों का गंदा पानी यमुना में जा रहा है।...

फोटो - http://v.duta.us/xPEpxQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/x4XMnAAA

📲 Get Mathura News on Whatsapp 💬