किसानों की सत्यापन के बाद खरीद होगी धान

  |   Sonebhadranews

सोनभद्र। जिले में धान खरीद के लिए 65 क्रय केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर एक नवंबर से खरीद शुरू होगी। ऑनलाइन पंजीयन कराने वाले किसानों का सिर्फ केंद्रों पर धान क्रय किया जाएगा। इससे पहले राजस्व कर्मियों द्वारा आवेदन करने वाले किसानों का सत्यापन होगा। क्योंकि कई किसान कम भूमि होने के बाद भी बिचौलियों का धान विक्रय कराने के लिए पंजीकरण कराते हैं। डीएम एस राज लिंगम के निर्देश पर तीनों तहसीलों के एसडीएम की निगरानी में धान विक्रय करने के लिए अब तक आवेदन करने वाले 2219 किसानों का सत्यापन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। गौरतलब हो कि वर्ष 2019-20 में जिले में धान क्रय करने के लिए 59 क्रय केंद्र बनाए गए थे। इसमें खाद्य विभाग के 13, पीसीएफ के 38, भारतीय खाद्य निगम के 1,कर्मचारी कल्याण निगम के 3 और नैफैड के 4 केेंद्र शामिल थे। पिछले माह कुछ किसान नेताओं ने डीएम से मिलकर क्रय केंद्र खोलने की मांग की थी। डीएम के निर्देश पर संबंधित अधिकारियों ने जांच की तो किसानों की मांग सही निकली। इसके बाद छह और क्रय केंद्र बनाए गए। अभी सदर, घोरावल और दुद्धी तहसील क्षेत्र में क्रय केंद्रों की सख्या 65 पहुंच गई है। इन केंद्रों पर एक नवंबर से 29 फरवरी तक धान की खरीद होगी। शासन ने जिला प्रशासन को 112000 मीट्रिक टन धान क्रय करने का निर्देश दिया है। लक्ष्य के अनुसार क्रय करने के लिए अभी से तैयारियां शुरू कर दी गई है। जिला विपणन अधिकारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि अभी तक धान विक्रय करने के लिए लगभग 2219 किसानों ने पंजीकरण कराया है। पिछले वर्ष धान का मूल्य 1750 रुपये प्रति क्विंटल था, जबकि इस वर्ष 1815 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। धान बेचने के दौरान किसानों को किसी प्रकार की समस्याएं न होने पाएं इसके लिए केंद्र प्रभारियों को निर्देशित किया गया है। योगेंद्र बहादुर सिंह, अपर जिलाधिकारी ने बताया कि क्रय केंद्रों पर धान विक्रय करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वालों का क्षेत्रीय लेखपालों से सत्यापन कराया जा रहा है। सत्यापन के दौरान यह पता लगाया जाता है कि किसान ने जितने धान विक्रय करने के लिए आवेदन किया है उतना उसके जमीन में पैदावार होगा या नहीं। क्योंकि कभी-कभार यह शिकायत मिलती है कि कुछ व्यापारी किसानों को चंद रुपये देकर सरकारी दर धान विक्रय करने के लिए उनके नाम से आवेदन कर देते हैं। लेखपालों के सत्यापन के बाद ही किसानों की धान खरीद की जाएगी।...

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/Gs59IgAA

📲 Get Sonebhadra News on Whatsapp 💬