नगर परिषद सभापति की दौड़ में लंबी कतार, वार्डो में सियासत तेज

  |   Sri-Ganganagarnews

श्रीगंगानगर। राज्य सरकार ने नगर निगम, नगर परिषद और नगर पालिका के मेयर और सभापति के चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से करवाने का फैसला ले ही लिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में इस प्रस्ताव पर चर्चा होने के बाद इसे मंज़ूरी दे दी गई।

इस घोषणा से श्रीगंगानगर नगर परिषद की सियासत तेज हो गई हैै। यहां तक कि वार्डो में अब तक पसरा सन्नाटा एकाएक छंट गया, शाम होने पर कई दावेदारों ने चुनावी मैदान में उतरने के लिए सोशल मीडिया में पोस्ट डालनी शुरू कर दी तो कईयों ने गली मोहल्ले में बैनर व होर्डिग्स लगाने शुरू कर दिए है। पार्षदों की अधिक पूछ बढऩे के कारण दावेदारों की संख्या इस बार भी दुगुनी होने के आसार है। पिछले चुनाव में जिस तरीके से धन बल हावी रहा, उसे देखते हुए पार्षदी के लिए कशमकश कांटेदार रहेगी। इधर, सभापति के कई दावेदारों ने सभापति के पद के आरक्षण लॉटरी के उपरांत ही तस्वीर साफ होने का दावा किया है। कईयों के चेहरों पर छाई मायूसी राज्य सरकार ने सभापति का चुनाव प्रत्यक्ष रूप से किए जाने की घोषणा की थी, इस वजह से कई जनप्रतिनिधियों ने सभापति चुनाव को लडऩे की तैयारियां भी शुरू कर दी थी।...

फोटो - http://v.duta.us/z8gygQAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/3r-qWQAA

📲 Get Sri Ganganagar News on Whatsapp 💬