बिग बॉस 13 के 16 वें दिन 👉देवोलीना ने किया खुद को 😰टॉयलेट में बंद, रश्मि का रो रोकर बुरा हाल😢

  |   Biggbosshindi / बॉलीवुड

दिन की शुरूआत मुकाबला गाने के साथ हुई। जिससे ये तो साफ हो गया कि घर में नए टास्क का समय आ चुका है। सुबह के गाने पर सिद्धार्थ डे काफी मूड में थिरकते हुए नज़र आए वहीं देवोलीना का मूड सुबह से ही काफी खराब रहा।

देवोलीना ने बाद में आरती को बताया भी उनका मूड सिद्धार्थ की वजह से खराब है। दरअसल, सिद्धार्थ शुक्ला देवोलीना से काफी नाराज़ हैं और उन्होंने देवोलीना को बताया कि पावर कार्ड टास्क में देवोलीना ने सिद्धार्थ का साथ ना देकर रश्मि का साथ दिया उन्हें इससे काफी दिक्कत हो रही है। सिद्दार्थ शुक्ला को सपताह भर के लिए इसी कारण रश्मि का सेवक बन कर रहना पड़ेगा।

मगर सिद्धार्थ की इस शिकायत से देवोलीना काफी नाराज़ हो गईं और खुद को टॉयलेट में बंद कर दिया। हालांकि सिद्धार्थ उन्हें बात साफ करने के लिए दबाव देते रहे। रश्मि ने आज आलू पराठे बनाए और नाश्ते के लिए सबका एक पराठा बनाया जिसके बाद असीम रियाज़ उन पर भड़क गए। असीम का कहना था कि जब सब दो से तीन रोटी खाते हैं तो एक पराठा क्यों बना।

वहीं असीम ने रश्मि को भला बुरा कहते हुए कहा कि एक रोटी भी वो एहसान जताकर खिलाती हैं। तब रश्मि ने भी असीम को खरी खोटी सुनाई और साफ किया कि ये सब सिद्धार्थ की भड़काई हुई आग है। उन्होंने अपना पॉइंट रखते हुए कहा कि चूंकि परांठे भारी होते हैं उन्होंने एक ही एक बनाया। लेकिन असीम रश्मि की बात सुनने के मूड में नहीं थे।

रश्मि का साइड लेते हुए पारस छाबड़ा लड़ाई के बीच में घुसे और कहा कि रश्मि पहले दिन से सबको नाश्ता खिला रही हैं कम से कम लोगों को इस बात का लिहाज़ तो रखना ही चाहिए। रश्मि भी इस बात से काफी दुखी होकर रोती हुई दिखाई दीं और कहा कि वो वाकई प्यार से सबके लिए नाश्ता बनाती हैं।

बिग बॉस ने रात में नया टास्क अनाउंस करते हुए कहा कि 'टॉय फैक्ट्री टास्क' में जो भी टीम जीतेगी उस टीम की एक लड़की को टिकट टू फिनाले जीतने का मौका अभी ही मिल जाएगा। टीम यलो , छाबड़ा टीम ,के कैप्टन पारस बनाये गए और उनके साथ टीम में देवोलीना, रश्मि, माहिरा और सिद्धार्थ डे थे ।

वहीं दूसरी टीम शुक्ला टीम थी। यह टीम रेड ड्रेस में थी। सिद्धार्थ शुक्ला टीम के कप्तान थे की जिनके साथ आरती, शेफाली, शहनाज़ और असीम थे। टीमों ने खिलौने बनाना शुरू किया। टीम छाबड़ा के पारस टीम शुक्ला के काम की जाँच करते हैं, और बिन में सभी खिलौनों को फेंक देते हैं। बदले में, सिद्धार्थ ने भी टीम छाबड़ा के खिलौनों की गुणवत्ता की जाँच की और उन सभी को नकार दिया किया। अंततः इस खेल में कोई विजयी घोषित नहीं हुआ।

यहां देखिए वीडियो -http://v.duta.us/Fn-uFAAA

यहां देखिए वीडियो -http://v.duta.us/IYhdawAA

📲 Get बिग बॉस on Whatsapp 💬