बोनस के लिए भटक रहे सैकड़ों मजदूर

  |   Chhindwaranews

छिंदवाड़ा. परासिया. कोयला खदानों में काम कर रहे लगभग दो हजार से अधिक ठेका मजदूर अपने बोनस के लिए पिछले साढ़े तीन वर्ष से भटक रहे है। इनमें से मात्र बीस मजदूरों को कई वर्ष पहले एक हजार रुपए बोनस मिला था। पिछले वर्ष सहायक श्रम आयुक्त, यूनियन तथा ठेकेदार के मध्य बोनस देने पर सहमति व्यक्त की गई थी लेकिन बोनस नहीं दिया गया। इस बार भी ठेका मजदूरों की दिवाली फीकी रहने वाली है। पिछला इतिहास देखे तो बोनस देने की सहमति पर प्रबंधन और ठेकेदार कितना खरा उतरेंगे इस पर भी संशय बना हुआ है।

ठेका मजदूरों के बोनस के लिए काम कर रहे कोल मजदूर यूनियन के अध्यक्ष मो. रफीक खान बताते है कि पेंच तथा कन्हान क्षेत्र में लगभग 22 ठेकेदार है जिनके माध्यम से खदानों में मजदूरो से काम कराया जाता है। पिछले वर्ष दिवाली के पूर्व जोरशोर से बोनस की घोषणा की गई थी लेकिन प्रबंधन और ठेकेदार के गठजोड़ ने इसे हाशिए पर डाल दिया।...

फोटो - http://v.duta.us/2bgHrgAA

यहां पढें पूरी खबर- - http://v.duta.us/ByGZxAAA

📲 Get Chhindwara News on Whatsapp 💬